scorecardresearch
 

बजट में कृषि, रोजगार, गरीबी उन्मूलन पर होगा जोर: सिन्हा

सिन्हा ने कहा, ‘हम वित्त मंत्रालय में बजट तैयार करने के लिए काफी मेहनत कर रहे हैं ताकि वास्तव में गरीबी उन्मूलन किया जा सके. हमारे किसान समृद्ध हों, युवाओं के लिये बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन हो और देश के सभी नागरिकों का जीवन स्तर बेहतर हो.’

X
केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री जयंत सिन्हा केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री जयंत सिन्हा

वित्त राज्यमंत्री जयंत सिन्हा का कहना है कि आगामी बजट आम जनता पर केंद्रित होगा जिसमें कृषि, रोजगार सृजन तथा गरीबी उन्मूलन पर खास ध्यान दिया जाएगा. एनडीए सरकार का यह दूसरा पूर्ण बजट होगा जिसे 29 फरवरी को संसद में पेश किया जाएगा.

सिन्हा ने कहा, ‘हम वित्त मंत्रालय में बजट तैयार करने के लिए काफी मेहनत कर रहे हैं ताकि वास्तव में गरीबी उन्मूलन किया जा सके. हमारे किसान समृद्ध हों, युवाओं के लिये बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन हो और देश के सभी नागरिकों का जीवन स्तर बेहतर हो.’

वित्त मंत्रालय के यू-ट्यूब चैनल पर अपने बजट पूर्व संदेश में मंत्री ने कहा कि बजट भविष्य पर नजर रखते हुए आगे बढ़ने वाला होगा. ‘यह सुनिश्चित करेगा कि उतार-चढ़ाव वाले वैश्विक माहौल में भारत स्थिरता और वृद्धि वाला क्षेत्र बना रहे.’ वित्त मंत्री अरूण जेटली की बजट टीम में सिन्हा, वित्त सचिव रतन वाटल, आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास, राजस्व सचिव हसमुख अधिया, विनिवेश सचिव नीरज गुप्ता तथा वित्त सेवा सचिव अंजली छिब दुग्गल शामिल हैं.

वित्त मंत्री अरण जेटली का यह तीसरा बजट होगा. उन्होंने जुलाई 2014 में सबसे पहले अंतरिम बजट भी पेश किया था. अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने चालू वित्त वर्ष के लिये भारत की आर्थिक वृद्धि दर को 7.3 फीसदी और अगले वित्त वर्ष के लिये 7.5 फीसदी पर पूर्ववत रखा है. आईएमएफ ने 2016 में वैश्विक आर्थिक वृद्धि 3.4 फीसदी और 2017 के लिये 3.6 फीसदी रहने का अनुमान व्यक्त किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें