scorecardresearch
 

YES BANK संकट से बाजार में कोहराम, 894 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ सेंसेक्स

कोरोना का प्रकोप और यस बैंक का संकट शेयर बाजार पर कहर बनकर टूटा है. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का सेंसेक्स सुबह 857 अंकों की गिरावट के साथ 37,613.96 पर खुला. थोड़ी ही देर में सेंसेक्स 1400 अंक तक टूट गया. अंत में सेंसेक्स 894 अंक टूटकर 37,576 पर बंद हुआ. यस बैंक कारोबार के अंत में 55 फीसदी की गिरावट के साथ 16.55 पर बंद हुआ.

शेयर बाजार धड़ाम होने से निवेशक परेशान (फाइल फोटो: Getty Images) शेयर बाजार धड़ाम होने से निवेशक परेशान (फाइल फोटो: Getty Images)

  • सेंसेक्स 857 अंकों की गिरावट के साथ 37,613.96 पर खुला
  • थोड़ी ही देर में बीएसई सेंसेक्स 1400 अंक तक टूट गया
  • अंत में सेंसेक्स 894 अंक टूटकर 37,576 पर बंद हुआ
  • यस बैंक का शेयर 55 फीसदी की गिरावट के साथ 16.55 पर बंद

कोरोना का प्रकोप और यस बैंक का संकट शेयर बाजार पर कहर बनकर टूटा है. शुक्रवार को शेयर बाजार में भारी गिरावट आई है. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का सेंसेक्स सुबह 857 अंकों की गिरावट के साथ 37,613.96 पर खुला. थोड़ी ही देर में सेंसेक्स 1400 अंक तक टूट गया. सुबह 11 बजे तक यस बैंक का शेयर करीब 85 फीसदी तक टूटकर 6 रुपये पर पहुंच गया.

55 फीसदी टूट गया यस बैंक

कारोबार के अंत में सेंसेक्स 894 अंक टूटकर 37,576 पर बंद हुआ. इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) का निफ्टी 327 अंक टूटकर 10,942.65 पर खुला और अंत में 289.45 अंकों की गिरावट के साथ 10,979.55 पर बंद हुआ. यस बैंक कारोबार के अंत में 55 फीसदी की गिरावट के साथ 16.55 पर बंद हुआ.

किन शेयरों में आई गिरावट

एनएसई के करीब 538 शेयरों में तेजी आई, जबकि 1875 शेयरों में गिरावट देखी गई. गिरने वाले प्रमुख शेयरों में टाटा मोटर्स, जी एंटरटेनमेंट, टाटा स्टील, एसबीआई और इंडसइंड बैंक शामिल रहे, जबकि बढ़ने वाले प्रमुख शेयरों में बजाज ऑटो, मारुति सुजुकी, गेल और एश‍ियन पेंट्स प्रमुख हैं.

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से तो सिर्फ बजाज ऑटो, मारुति सुजुकी और एश‍ियन पेंट्स में तेजी देखने को मिली. सभी सेक्टर लाल निशान में देखे गए. निफ्टी पीएसयू में 5 फीसदी की गिरावट देखी गई.

क्या है यस बैंक का संकट

गौरतलब है कि भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने यस बैंक पर सख्ती बरतते हुए इससे निकासी की सीमा 50 हजार रुपये निकासी की सीमा तय की है. आरबीआई का ये आदेश अगले एक महीने के लिए है. एनएसई ने यस बैंक के फ्यूचर और ऑप्शन सौदों पर रोक लगा दी है.

ये भी पढ़ें: Yes Bank पर RBI ने कसा शिकंजा, सिर्फ 50 हजार रुपये ही निकाल सकेंगे ग्राहक

इसकी वजह से देश भर के यस बैंक ग्राहकों में डर कायम हो गया है और गुरुवार रात कई शहरों में यस बैंक के एटीएम में ग्राहकों की कतारें देखी गईं.

हालांकि, भारतीय स्टेट बैंक के बोर्ड ने संकटग्रस्त यस बैंक में निवेश के लिए सैद्धांतिक रूप से (in principle) मंजूरी दे दी है. यानी अगर सबकुछ ठीक रहा तो आर्थिक संकट में फंसे यस बैंक में देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI की हिस्‍सेदारी होगी. गुरुवार को ऐसी खबर आने के बाद यस बैंक के शेयर करीब 26 फीसदी की उछाल के साथ 37 रुपये पर पहुंच गए थे.

चीन के बाहर कोरोना का प्रकोप लगातार बढ़ते जाने से दुनिया भर के शेयर बाजारों में घबराहट बढ़ी है. शुक्रवार को एश‍ियाई शेयर बाजारों में गिरावट देखी गई.

टाटा मोटर्स के शेयरों में 10 फीसदी गिरावट

कोरोना वायरस के प्रकोप की वजह से टाटा मोटर्स की चीन की बिक्री में भारी गिरावट आई है, इसकी वजह से टाटा मोटर्स के शेयरों में 10 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई है.

सेंसेक्स की हालत

sensex-close_030620035429.jpg

ये भी पढ़ें: 50 हजार निकासी की सीमा के बाद यस बैंक के ATM में आधी रात को मची मारामारी, पुलिस अलर्ट

गुरुवार को गिरावट के साथ बंद हुए थे बाजार

मजबूत वैश्विक संकेतों की वजह से गुरुवार को भारतीय शेयर बाजार हरे निशान में खुले थे. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 195 अंकों की तेजी के साथ 38,604.25 पर खुला था, लेकिन बाद में बाजार में काफी उतार-चढ़ाव रहा और अंत में सेंसेक्स 61. 13 अंक की मजबूती के साथ 38,409.48 पर बंद हुआ. इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 55 अंकों की तेजी के साथ 11,306 पर खुला और अंत में निफ्टी 18 अंक की तेजी के साथ 11,269 पर बंद हुआ.

गुरुवार को बाजार में काफी उतार-चढ़ाव रहा. दोपहर 12.19 बजे तक सेंसेक्स 38880 तक पहुंच गया था. इस तरह सेंसेक्स दिन के सर्वोच्च स्तर के मुकाबले करीब 276 अंक के नुकसान के साथ बंद हुआ. दिन में कारोबार के दौरान सेंसेक्स करीब 479 अंकों तक टूटा. सेंसेक्स का सर्वोच्च स्तर 38,880 और सबसे निचला स्तर 38401 था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें