scorecardresearch
 

सेंसेक्स 80 अंक और मजबूत, सोना हुआ महंगा

सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) कंपनियों के शेयरों में तेजी से बंबई शेयर बाजार के सेंसेक्स शुक्रवार को शुरुआती नुकसान से उबर गया और अंत में 80 अंक की बढ़त के साथ 25,641.56 अंक के लगभग दो सप्ताह के उच्च स्तर पर पहुंच गया.

सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) कंपनियों के शेयरों में तेजी से बंबई शेयर बाजार के सेंसेक्स शुक्रवार को शुरुआती नुकसान से उबर गया और अंत में 80 अंक की बढ़त के साथ 25,641.56 अंक के लगभग दो सप्ताह के उच्च स्तर पर पहुंच गया.

यूक्रेन-रूस सीमा पर मलेशियन एयरलाइंस के जेट विमान को गिराए जाने की घटना के बाद भूराजनीतिक चिंता बढ़ने से एशियाई बाजारों के अनुरूप यहां भी शुरुआत में कमजोरी का रुख दिखाई दिया. ब्रोकरों ने कहा कि हालांकि बाद में आईटी के अलावा बैंकिंग व पूंजीगत सामान कंपनियों के शेयरों में लिवाली से बाजार सकारात्मक दायरे में आ गया. नकारात्मक रुख के साथ खुलने के बाद बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स मुनाफावसूली व कमजोर वैश्विक संकेतों से एक समय 25,441.24 अंक तक नीचे चला गया. अंत में सेंसेक्स 80.40 अंक या 0.31 प्रतिशत के सुधार के साथ 25,641.56 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान इसने दिन का उच्च स्तर 25,713.40 अंक भी छुआ. पिछले चार दिन में सेंसेक्स 634 अंक का लाभ दर्ज कर चुका है.

सप्ताह के दौरान सेंसेक्स में 617.21 अंक की बढ़त दर्ज हुई. देश की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर सेवा निर्यातक टीसीएस के उम्मीद से बेहतर नतीजों से आईटी कंपनियों के शेयर मांग में रहे. सेंसेक्स की कंपनियों में टीसीएस का शेयर 2.58 प्रतिशत चढ़ गया. विप्रो में 1.83 प्रतिशत व इन्फोसिस में 0.31 प्रतिशत का लाभ रहा. नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 23.45 अंक या 0.31 प्रतिशत के लाभ के साथ 7,663.90 अंक पर पहुंच गया. कारोबार के दौरान यह 7,595.50 से 7,685 अंक के दायरे में रहा.

कोटक सिक्योरिटीज के निजी ग्राहक समूह शोध के प्रमुख दीपेन शाह ने कहा, ‘सप्ताह के दौरान सेंसेक्स में 3 प्रतिशत की तेजी आई. कच्चे तेल पर चिंता दूर होने से सेंसेक्स मजबूत हुआ. सप्ताह के दौरान मानसून में भी प्रगति हुई है, जिससे महंगाई को लेकर चिंता कम हुई है.’ इस बीच, अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने गुरुवार को  1,912.42 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे. एशियाई बाजारों में हांगकांग, दक्षिण कोरिया व ताइवान में 0.07 से 1.01 प्रतिशत की गिरावट आई. वहीं चीन व सिंगापुर के बाजारों में 0.11 से 0.17 प्रतिशत की बढ़त रही. शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार भी नीचे चल रहे थे.

वेरासिटी ब्रोकिंग सर्विसेज के अनुसंधान प्रमुख जिग्नेश चौधरी ने कहा, ‘यूक्रेन रूस सीमा पर मलेशियन एयरलाइंस के जेट विमान को गिराए जाने के बाद एशियाई बाजारों के अनुरूप यहां भी बाजार कमजोरी से खुले. इस घटना से निवेशकों का भरोसा डगमगा गया.’ सेंसेक्स के 30 शेयरों में 13 लाभ व 17 नुकसान में रहे. सेंसेक्स की अन्य कंपनियों में हीरो मोटोकार्प 2.62 प्रतिशत, एक्सिस बैंक 2.10 प्रतिशत, आईसीआईसीआई बैंक 1.97 प्रतिशत, एलएंडटी 1.06 प्रतिशत, सिप्ला 0.87 प्रतिशत व एचडीएफसी 0.78 प्रतिशत लाभ में रहे. वहीं दूसरी ओर टाटा पावर के शेयर 2.58 प्रतिशत की गिरावट आई. हिंडाल्को का शेयर 2.23 प्रतिशत, भेल 2.10 प्रतिशत, मारुति सुजुकी 1.70 प्रतिशत, गेल इंडिया 1.69 प्रतिशत, एसबीआई 1.39 प्रतिशत व सेसा स्टरलाइट 1.22 प्रतिशत नीचे आए.

यूक्रेन संकट से सोने में उछाल जारी
यूक्रेन संकट गहराने की आशंका से अंतरराष्ट्रीय बाजार में निवेशकों ने सोने पर दाव लगाया जिससे वैश्विक बाजारों में सोने की कीमतों में तेजी आई. जिससे दिल्ली सर्राफा बाजार में शुक्रवार को सोने के भाव 150 रुपये की तेजी के साथ 28,500 रुपये प्रति दस ग्राम हो गये. चांदी के भाव 500 रुपये चढ़कर 45,500 रुपये प्रति किलो तक जा पहुंचे. सर्राफा व्यापारियों के अनुसार यूक्रेन में मलेशियाई एयरलाइंस काएक विमान को मार गिराये जाने की घटना से यूक्रेन में सकंट और गहराये जाने की आशंकाओं के बीच निवेशकों ने सुरक्षा की दृष्टि से सोने की खरीदारी बढ़ा दी. इसके अलावा आभूषण निर्माताओं और फुटकर लिवाली से भी तेजी को बल मिला.

रुपया 10 पैसे टूटकर एक माह के निचले स्तर पर
रुपये में गिरावट का सिलसिला शुक्रवार को भी जारी रहा. अंतर बैंक विदेशी विनिमय बाजार में रुपया 10 पैसे टूटकर एक माह के निचले स्तर 60.28 प्रति डॉलर पर आ गया. आयातकों की डॉलर मांग से रुपये में गिरावट आई. फारेक्स डीलरों ने कहा कि स्थानीय शेयर बाजारों में पूंजी के भारी प्रवाह से हालांकि रुपये में गिरावट सीमित रही. रुपया 60.41 प्रति डॉलर पर कमजोर खुलने के बाद 60.46 के निचले स्तर तक गया. गुरुवार के कारोबार में यह 60.18 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था. हालांकि बाद में शेयर बाजारों में सुधार तथा निर्यातकों की डॉलर बिकवाली से रुपये में कुछ सुधार हुआ. अंत में यह 10 पैसे या 0.17 प्रतिशत की गिरावट के साथ 60.28 प्रति डॉलर पर बंद हुआ.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें