scorecardresearch
 

मारुति सुजुकी 1.5 करोड़ कारें बनाने वाली पहली कंपनी बनी

देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी मंगलवार को 1.5 करोड़ कार बनाने वाली देश की पहली कंपनी बन गई. मारुति सुजुकी इंडिया के कार्यकारी निदेशक-उत्पादन, राजीव गांधी ने कहा, 'मारुति सुजुकी की यात्रा लगातार सुधार की रही है.

X
File
File

देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी मंगलवार को 1.5 करोड़ कार बनाने वाली देश की पहली कंपनी बन गई. मारुति सुजुकी इंडिया के कार्यकारी निदेशक-उत्पादन, राजीव गांधी ने कहा, 'मारुति सुजुकी की यात्रा लगातार सुधार की रही है.

कारखाने में हमारे लोग महत्वपूर्ण योगदान करते हैं, जिसके कारण हम अपने ग्राहकों को बेहतर-से-बेहतर दे पाते हैं और उनकी जरूरतों और इच्छाओं को पूरा कर पाते हैं.'

कंपनी ने कहा कि मानेसर संयंत्र में बनी डिजायर वीडीआई कार 1.5 करोड़वीं कार रही. कंपनी के आंकड़ों के मुताबिक, उसकी मारुति-800, अल्टो, वैगन आर, ओमनी, स्विफ्ट और डिजायर जैसी नई कारों की बिक्री सबसे अधिक होती है.

अभी तक कंपनी ने अल्टो मॉडल की 31 लाख कारें और मारुति-800 मॉडल की 29 लाख कारें बनाई हैं. इसी तरह कंपनी ने 17 लाख ओमनी वैन, 16 लाख वैगन आर, 13 लाख स्विफ्ट और 10 लाख सेडान डिजायर कारों का उत्पादन किया है.

कंपनी की पहली कार गुड़गांव संयंत्र में दिसंबर 1983 में बनी थी. वह मारुति-800 मॉडल थी. 1.5 करोड़ कार बनाने का सफर 31 साल और पांच महीने का रहा.

कंपनी ने कहा कि 2020 तक वह सालाना 20 लाख वाहनों की बिक्री का लक्ष्य हासिल करना चाहती है.

- इनपुट IANS

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें