scorecardresearch
 

ब्लैकमनी निकलवाने की कोशिश, टैक्स चुकाने की डेडलाइन बढ़ा सकती है सरकार

सरकार कालेधन की एकमुश्त अनुपालन सुविधा के तहत खुलासे पर कर भुगतान के लिए तय समय सीमा को आगे बढ़ा सकती है. उद्योगों के इस आग्रह को स्वीकार किया है कि कर का भुगतान किस्तों में किया जा सकता है.

सरकार कालेधन की एकमुश्त अनुपालन सुविधा के तहत खुलासे पर कर भुगतान के लिए तय समय सीमा को आगे बढ़ा सकती है. उद्योगों के इस आग्रह को स्वीकार किया है कि कर का भुगतान किश्तों में किया जा सकता है.

कर का भुगतान किश्तों में देने की सुविधा पर विचार
एक सीनियर अधिकारी ने कहा, 'सरकार कर भुगतान की समयसीमा बढ़ाने पर अनुकूल ढंग से विचार कर रही है क्योंकि वह इस बात को समझ रही है कि नवंबर के आसपास नकदी का संकट रहता है. उन्होंने कहा कि इस बात को लेकर चर्चा जारी है कि भुगतान सुविधा को कितने महीने के लिए बढ़ाया जा सकता है, इस संबंध में चर्चा हो रही है. हमने कहा है कि वे कर और जुर्माना किस्तों में अदा कर सकते हैं'.

वित्त मंत्री के साथ बैठक में उठे थे मुद्दे
वित्त मंत्री अरुण जेटली की पिछले महीने उद्योग संगठनों, चार्टर्ड अकाउंटेंट और कर पेशेवरों के साथ हुई बैठक के बाद अधिकारियों की तरफ से यह टिप्पणी आई है. इस बैठक का आयोजन अनुपालन सुविधा से जुड़ी चिंताओं को समझने के लिए किया गया था.

कर भुगतान में उदारता बरतने की मांग
हालांकि विभिन्न व्यापार संगठनों ने कर भुगतान में उदारता बरतने और योजना के विस्तार की मांग की है, क्योंकि नवंबर के आसपास नकदी प्रवाह की समस्या होती है. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने अक्सर पूछे जाने वाले सवाल के रूप में योजनाओं के स्पष्टीकरण के तीन सेट जारी किए हैं.

निवासी और प्रवासी दोनों के लिए स्कीम
यह योजना निवासी और प्रवासी दोनों खंडों में लागू होगी जो आय खुलासा योजना (आईडीएस) के तहत खुलासा कर सकते हैं. अधिकारी ने कहा, हम और स्पष्टीकरण जारी करेंगे, हमें अभी भी लोगों के सवाल मिल रहे हैं और हम उन पर ध्यान दे रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें