scorecardresearch
 
बिजनेस

एक और बैंक पर चला RBI का डंडा, जानें-ग्राहकों के पैसे का क्या होगा

एक और बैंक पर चला RBI का डंडा, जानें-ग्राहकों के पैसे का क्या होगा
  • 1/7
ग्राहकों के पैसों की सुरक्षा के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) लगातार बैंकों पर सख्ती दिखा रहा है. आरबीआई ने देश के कई बड़े या छोटे बैंकों पर कार्रवाई की है. किसी बैंक पर जुर्माना लगाया है तो किसी पर कई तरह की पाबंदियां लगा दी हैं.

एक और बैंक पर चला RBI का डंडा, जानें-ग्राहकों के पैसे का क्या होगा
  • 2/7
वहीं हाल ही में मुंबई स्थित CKP सहकारी बैंक का लाइसेंस रद्द कर दिया है. इसका मतलब ये हुआ कि सीकेपी सहकारी बैंक डिपॉजिट स्वीकारने समेत कोई भी बैंकिंग बिजनेस नहीं कर पाएगा. ऐसे में सवाल है कि ग्राहकों के जमा राशि का क्या होगा. आइए विस्तार से जानते हैं..
एक और बैंक पर चला RBI का डंडा, जानें-ग्राहकों के पैसे का क्या होगा
  • 3/7
कितना है डिपॉजिट और ग्राहकों की संख्या-

CKP सहकारी बैंक की वेबसाइट के मुताबिक बैंक के 1,32,170 जमाकर्ता हैं.वहीं, बैंक के पास 485 करोड़ रुपये का कुल जमा, 161 करोड़ रुपये का कर्ज और 239 करोड़ रुपये का निगेटिव नेटवर्थ है.

एक और बैंक पर चला RBI का डंडा, जानें-ग्राहकों के पैसे का क्या होगा
  • 4/7
क्या ग्राहकों को मिलेगी रकम?

आरबीआई के मुताबिक बैंक के 99 फीसदी से अधिक जमाकर्ताओं को उनका पूरा पैसा 'डिपॉजिट इंश्‍योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (डीआईसीजीसी) से मिल जाएगा. उन्‍हें घबराने की बिल्‍कुल जरूरत नहीं है.
एक और बैंक पर चला RBI का डंडा, जानें-ग्राहकों के पैसे का क्या होगा
  • 5/7
क्या है नियम ?

डिपॉजिट इंश्योरेंस एंड क्रे​डिट गारंटी कॉरपोरेशन (DICGC) के नियमों के मुताबिक, अगर कोई बैंक डूब जाता है तो उस बैंक में अब ग्राहकों की 5 लाख रुपये तक की जमा सिक्योर्ड है.
एक और बैंक पर चला RBI का डंडा, जानें-ग्राहकों के पैसे का क्या होगा
  • 6/7
इसका मतलब ये हुआ कि CKP सहकारी बैंक के जमाकर्ताओं को उनकी 5 लाख रुपये तक की जमा रकम वापस मिल जाएगी. अगर किसी की इससे ज्यादा रकम जमा है तो 5 लाख को छोड़कर बाकी की जमा राशि डूब जाएगी. डिपॉजिट इंश्योरेंस एंड क्रे​डिट गारंटी कॉरपोरेशन भारतीय रिजर्व बैंक की पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी कंपनी है.
एक और बैंक पर चला RBI का डंडा, जानें-ग्राहकों के पैसे का क्या होगा
  • 7/7
बता दें कि मुंबई में स्थित CKP सहकारी बैंक की स्थापना 1915 में हुई थी. इसके मुंबई और थाणे के इलाकों में कुल 8 ब्रांच हैं.