scorecardresearch
 

Zomato देगी निवेशकों को पैसा बनाने का मौका, अगले साल आ सकता है IPO

जोमैटो के फाउंडर और CEO दीपिंदर गोयल ने कर्मचारियों को भेजे एक ई-मेल में बताया है कि कंपनी अगले साल की पहली छमाही में IPO लाने पर जोरशोर से काम कर रही है. कंपनी ने टाइगर ग्लोबल मैनजमेंट और टेमासेक से करीब 1200 करोड़ रुपये का निवेश हासिल किया है. 

X
 आईपीओ ला सकती है Zomato आईपीओ ला सकती है Zomato
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अगले साल की पहली छमाही में आ सकता है IPO
  • कंपनी के फाउंडर ने कर्मचारियों को दी जानकारी
  • कंपनी को करीब 16 करोड़ डॉलर का निवेश मिला है

भारतीय फूड डिलीवरी स्टार्टअप Zomato अगले साल आईपीओ लाने की तैयारी कर रही है. कंपनी ने अमेरिकी इनवेस्टमेंट फर्म टाइगर ग्लोबल मैनजमेंट और सिंगापुर की कंपनी टेमासेक से 16 करोड़ डॉलर (करीब 1200 करोड़ रुपये) का निवेश हासिल किया है. 

Zomoto में Infoedge की करीब 23 फीसदी हिस्सेदारी है. Zomato अगले साल की पहली छमाही में IPO की अर्जी लगा सकती है. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को दी गई जानकारी में Info Edge (India) ने इस बात की पुष्टि की है कि जोमैटो ने टाइगर ग्लोबल मैनेजमेंट एलएलसी से 10 करोड़ डॉलर और टेमासेक होल्डिंग्स लिमिटेड की सब्सिडियरी MacRitchie इनवेस्टमेंट्स से 6 करोड़ डॉलर जुटाये हैं. 

क्या कहा फाउंडर ने 

जोमैटो के फाउंडर और CEO दीपिंदर गोयल ने कर्मचारियों को भेजे एक ई-मेल में बताया है कि कंपनी अगले साल की पहली छमाही में IPO लाने पर जोरशोर से काम कर रही है. 

उन्होंने कहा, 'हमनें काफी पूंजी जुटा ली है और बैंक में हमारा कैश करीब 25 करोड़ डॉलर है. यह हमारे इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा कैश है. टाइगर ग्लोबल, टेमासेक, बैली गिफोर्ड और आन्ट फाइनेंशियल ने मौजूदा फंडिंग में हिस्सा लिया है. अभी भी इस राउंड में कई बड़े नाम जुड़ रहे हैं. हमारा अनुमान है कि बहुत जल्द ही हमारा बैंक कैश 60 करोड़ डॉलर हो जाएगा.'  

कितना है वैल्यूएशन 

निवेशकों ने जो निवेश किया है उससे कंपनी की वैल्यूएशन करीब 25 हजार करोड़ रुपये हो जाती है. गौरतलब है कि लॉकडाउन और कोरोना संकट की वजह से जोमैटो और स्विगी जैसी फूड डिलीवरी कंपनियों का कारोबार भी अच्छा नहीं चल रहा है. ऐसे में कंपनी द्वारा बड़ी पूंजी हासिल करना महत्वपूर्ण बात है. जोमैटो का मुख्यालय गुड़गांव में है. वित्त वर्ष 2019-20 में कंपनी की आय दोगुनी होकर करीब 2900 करोड़ रुपये तक पहुंच गई थी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें