scorecardresearch
 

Just Dial की नई मालिक बनी Reliance Retail, अलॉट हुए इतने शेयर

लोकल सर्च इंजन Just Dial की नई मालिक अब Reliace Retail होगी. कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने Just Dial के इतने शेयर Reliance को अलॉट करने की मंजूरी दे दी है. पढ़े पूरी खबर...

Just Dial की नई मालिक Reliance Retail (Photo : Reuters) Just Dial की नई मालिक Reliance Retail (Photo : Reuters)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • Reliance के पास 41% पेड-अप इक्विटी शेयर
  • Just Dial को मिले 1,022.25 रुपये प्रति शेयर
  • Reliance की मिलेगी JD के डेटाबेस तक एक्सेस

लोकल सर्च इंजन Just Dial पर अब से Reliance Retail Ventures का अधिकार होगा. कंपनी के बोर्ड ने बड़ी संख्या में अपने शेयर Reliance Retail को अलॉट करने की मंजूरी दे दी है.

Reliance के हुए 2.12 करोड़ शेयर
Just Dial ने गुरुवार को जानकारी दी कि उसके बोर्ड ने Reliance Retail Ventures को कंपनी के 2.12 करोड़ शेयर अलॉट करने की मंजूरी दे दी है. शेयरों का ये अलॉटमेंट 1,022.25 रुपये प्रति शेयर के आधार पर किया गया है. 10 रुपये की फेस वैल्यू वाले इन शेयर पर कंपनी को 1,012.25 रुपये का प्रीमियम मिला है और इन्हें तरजीही आधार पर प्राइवेट प्लेसमेंट के माध्यम से अलॉट किया गया है.

Reliance Retail 41% की हिस्सेदार
इस शेयर अलॉटमेंट को लेकर Reliance Retail की तरफ से भी आधिकारिक बयान आ गया है. इसके बाद Just Dial की कुल चुकता शेयर पूंजी में Reliance Retail Ventures की हिस्सेदारी 40.98% होगी. इसी के साथ Just Dial Limited का पूरा नियंत्रण अब मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाले Reliance Industries Group के पास होगा.

Reliance पहले ले चुकी है 1.31 करोड़ शेयर
Reliance Retail ने अपने बयान में कहा कि इस साल जुलाई में उसने Just Dial के 1.31 करोड़ शेयर का अधिग्रहण किया था. इसके लिए कंपनी ने 10 रुपये की फेस वैल्यू वाले शेयर के लिए Just Dial को प्रति शेयर 1,020 रुपये का भुगतान किया था. 

बढ़ेगा Reliance का रिटेल कारोबार
इस अधिग्रहण के बाद Reliance को Just Dial के डेटा बेस और करोड़ों मर्चेंट्स तक पहुंच मिलेगी. इससे उसे अपना रिटेल कारोबार बढ़ाने में मदद मिलेगी, क्योंकि Just Dial के पास 25 साल की लिस्टिंग है. 

Reliance Retail Ventures एक होल्डिंग कंपनी है जो रिलायंस इंडस्ट्रीज के तहत आने वाले पूरे रिटेल बिजनेस को देखती है. Reliance Industries धीरे-धीरे देश के रिटेल सेक्टर में अपनी बढ़त बनाने के लिए काम कर रही है. इसलिए कंपनी ने Future Group की Future Retail के साथ भी सौदा किया है. हालांकि इस पर अमेरिकी ई-कॉमर्स कंपनी Amazon के साथ उसका विवाद चल रहा है और ये मामला अभी अदालती कार्रवाई का सामना कर रहा है.

ये भी पढ़ें: 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें