scorecardresearch
 

ICICI Bank के दमदार नतीजे, मुनाफे में 50% का उछाल, NPA में सुधार

अप्रैल-जून की तिमाही में ICICI Bank के लोन बुक में भी इजाफा देखने को मिला. इसका लोन बुक 21 फीसदी बढ़ोतरी के साथ 8.95 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया. अप्रैल-जून की तिमाही के नतीजे आने से पहले ही शुक्रवार को ICICI Bank के शेयर में तेजी देखने को मिली थी. ICICI Bank के बैंक के एनपीए में भी सुधार हुआ है.

X
आईसीआईसीआई बैंक को हुआ जबरदस्त मुनाफा
आईसीआईसीआई बैंक को हुआ जबरदस्त मुनाफा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मार्च की तिमाही के मुकाबले गिरावट
  • बैंक के लोन बुक में हुई बढ़ोतरी

प्राइवेट सेक्टर के बैंक आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) ने मौजूदा वित्त वर्ष के पहले क्वार्टर के नतीजे जारी कर दिए हैं. पहली तिमाही (Q1 Results) में बैंक ने जबरदस्त मुनाफा कमाया है. अप्रैल-जून की तिमाही में ICICI Bank के नेट प्रॉफिट (Net Profit) में 49.59 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. बैंक मुनाफा बढ़कर 6,904.94 करोड़ रुपये हो गया है. पिछले वित्त वर्ष की इस तिमाही में बैंक का मुनाफा 4,616.02 करोड़ रुपये रहा था.

इस वजह से बढ़ा मुनाफा

बैंक ने बताया कि उसका नेट इंटरेस्ट इनकम (NII) पिछले साल की समान तिमाही में 10,936 करोड़ रुपये की तुलना में 21 प्रतिशत बढ़कर 13,210 करोड़ रुपये हो गई. बैड लोन प्रोविजंस में आई कमी की वजह से इस वित्त वर्ष के पहले क्वार्टर में बैंक के मुनाफे में बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

मार्च तिमाही के मुकाबले गिरावट

हालांकि, बैंक का मुनाफा मार्च की तिमाही के मुकाबले घटा है. तब इसका नेट फ्रॉफिट 7,018.71 करोड़ रुपये रहा था. बैंक के एडवासेंज में 23 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है. वहीं, सालाना के आधार पर डिपोजिट में 13 फीसदी की तेजी देखने को मिली है.

एनपीए में आया सुधार

बैंक के एनपीए (NPA) में भी सुधार हुआ है. ग्रॉस एनपीए (Gross NPA) अप्रैल-जून तिमाही में घटकर 3.41 फीसदी हो गया, जो मार्च में 3.60 फीसदी और एक साल पहले की तिमाही में 5.15 फीसदी था. जून तिमाही में एनपीए में 382 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई. वहीं, मार्च तिमाही में इसमें 489 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ था. इस तिमाही में नेट एनपीए रेशियो में घटकर 0.70 फीसदी रह गया, जो मार्च में समाप्त हुए क्वार्टर में 0.76 फीसदी और पिछले वित्त वर्ष के पहले क्वार्टर में में 1.16% था.

लोन बुक में इजाफा

अप्रैल-जून की तिमाही में ICICI Bank के लोन बुक में भी इजाफा देखने को मिला. इसका लोन बुक 21 फीसदी बढ़ोतरी के साथ 8.95 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया. बैंक के अनुसार, उसके टोटल लोन बुक में 53 फीसदी हिस्सा रिटेल लोन पोर्टफोलियो का है. इसमें वार्षिक आधार पर 24 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

ICICI Bank ने बताया कि जून के क्वार्टर के अंत में उसके कुल डिपोजिट में 13 फीसदी की बढ़ोतरी हुई. तिमाही के दौरान नेट इंटरेस्ट मार्जिन 4.01 फीसदी रहा. 31 मार्च 2022 को समाप्त तिमाही में ये 4% था.

नतीजों से पलहे शेयर में तेजी

अप्रैल-जून की तिमाही के नतीजे आने से पहले ही शुक्रवार को ICICI Bank का शेयर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर 14 अंकों की तेजी के साथ 800.05 रुपये पर क्लोज हुआ था. पिछले एक महीने में बैंक के शेयर में 10 फीसदी से अधिक की तेजी आई है. शुक्रवार को बीएसई पर बैंक के शेयर 1.74 फीसदी की बढ़त के साथ 800 रुपये के स्तर पर क्लोज हुए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें