scorecardresearch
 
बिज़नेस न्यूज़

सुधर रहे इकोनॉमी के हालात, SBI का अप्रैल-जून में ग्रोथ डबल डिजिट में रहने का अनुमान!

SBI की रिसर्च रिपोर्ट
  • 1/6

देश के सबसे बड़े बैंक State Bank of India (SBI) ने अपनी रिसर्च रिपोर्ट ‘SBI Ecowrap’ में देश की इकोनॉमिक ग्रोथ अप्रैल-जून 2021 में डबल डिजिट में रहने का अनुमान जताया है. हालांकि ये RBI के प्रोजेक्शन से काफी कम है. लेकिन रिपोर्ट में देश के साथ-साथ दुनिया में इकोनॉमी के हालात सुधरने का अनुमान जताया है. पढ़ें पूरी खबर
(Photos : Getty)
 

देश की इकोनॉमिक ग्रोथ
  • 2/6

SBI ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि देश का जीडीपी ग्रोथ रेट चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में 18.5% रह सकता है. हालांकि ये इसी अवधि के लिए RBI की इकोनॉमिक ग्रोथ की उम्मीदों से कम है. RBI का अनुमान इस अवधि के लिए 21.4% की ग्रोथ का है.

GVA बढ़ेगा 15%
  • 3/6

चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में देश की अर्थव्यवस्था में कितना वैल्यू एडिशन होगा, इसका भी अनुमान SBI ने अपनी इस रिपोर्ट में जताया है. इसके हिसाब से इस दौरान अर्थव्यवस्था में ग्रॉस वैल्यू एडेड (GVA) 15% रहेगा.

कंपनियों की ग्रोथ भी बढ़िया
  • 4/6

SBI की रिपोर्ट के हिसाब से कॉरपोरेट रिकवरी भी अच्छी दिख रही है. अगर कंपनियों के रिजल्ट्स को देखें तो 2021-22 की पहली तिमाही में Corporate GVA में ग्रोथ हुई है. देश की 4,069 कंपनियों का कॉरपोरेट जीवीए इस अवधि में 28.4% बढ़ा है. हालांकि ये 2020-21 की जनवरी-मार्च तिमाही की ग्रोथ से कम है.

दुनिया की सभी इकोनॉमी की ग्रोथ डबल डिजिट
  • 5/6

SBI की रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया के लगभग सभी देशों की इकोनॉमिक ग्रोथ डबल डिजिट में रही है. 17 प्रमुख इकोनॉमी की एवरेज रीयल जीडीपी ग्रोथ जनवरी-मार्च में 0.1% गिरावट थी जो अप्रैल-जून में 12.2% रही है.

लॉकडाउन खुलने से बढ़ेगी रफ्तार
  • 6/6

रिपोर्ट में SBI ने एक और बात पर ध्यान दिलाया है कि दुनियाभर में कम मोबिलिटी से कम जीडीपी ग्रोथ और ज्यादा मोबिलिटी से ज्यादा जीडीपी ग्रोथ देखी गई है. इसका सीधा मतलब है कि लॉकडाउन में जैसे-जैसे राहत मिलेगी, लोगों का आना-जाना बढ़ेगा, वैसे-वैसे की इकोनॉमी की रफ्तार भी बढ़ेगी. (Photo : PTI)