scorecardresearch
 
बिज़नेस न्यूज़

Happy Birthday: 63 साल की हुईं Nirmala Sitharaman, दिलचस्प है सेल्सवूमन से वित्त मंत्री बनने का सफर

63 साल की हुईं देश की वित्त मंत्री
  • 1/6

63 साल की हुईं देश की वित्त मंत्री
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) आज 63 साल की हो गईं. एक सेल्सवूमेन (Saleswoman) से देश की पहली पूर्णकालिक वित्त मंत्री (Finance Minister) बनने तक का उनका सफर बेहद दिलचस्प रहा है. वह पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) के भारत के रक्षा मंत्री का पद संभालने वाली दूसरी महिला भी हैं. आइए जानते हैं उनके बारे में कुछ खास बातें...

18 अगस्त 1959 को जन्म
  • 2/6

18 अगस्त 1959 को जन्म
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) का जन्म 18 अगस्त 1959 को तमिलनाडु के मदुरै में एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ था. उनके पिता का नाम नारायण सीतारमण था और वे रेलवे में काम करते थे, जबकि सीतारमण की मां सावित्री सीतारमण एक गृहिणी थीं. उन्होंने तिरुचिरापल्ली के सीतालक्ष्मी रामास्वामी कॉलेज से अर्थशास्त्र में बीए किया. इसके बाद 1984 में जेएनयू से मास्टर्स की पढ़ाई पूरी की. उन्होंने इंडो-यूरोपियन टेक्सटाइल ट्रेड (Indo-European textile trade) पर शोध प्रबंध में पीएचडी भी की है.

लंदन में सेल्सवुमन का काम किया
  • 3/6

लंदन में सेल्सवुमन का काम किया 
निर्मला सीतारमण का सेल्सवुमन बनने से लेकर भारत के वित्त मंत्री बनने तक का सफर दिलचस्प रहा है. वे शादी के बाद अपने पति के साथ लंदन (Landon) शिफ्ट हो गई थीं, जहां उन्होंने रीजेंट स्ट्रीट (Regent Street) में एक होम डेकोर स्टोर में सेल्सवुमन के तौर पर अपने करियर की शुरुआत की थी. इसके बाद उन्होंने ब्रिटेन में ही एग्रीकल्चरल इंजीनियर्स एसोसिएशन में सहायक अर्थशास्त्री के रूप में भी काम किया. यही नहीं वे एक पत्रकार के रूप में बीबीसी वर्ल्ड सर्विस (BBC World Service) में भी अपनी सेवाएं दे चुकी हैं.

 राजनीतिक करियर की शुरुआत
  • 4/6

राजनीतिक करियर की शुरुआत 
सीतारमण 1991 में वापस भारत लौटीं और साल 2003 से 2005 तक राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रहीं. इसके बाद 2006 में वे बीजेपी के साथ जुड़ गईं. हालांकि, उनके पति का परिवार पूरी तरह से कांग्रेस समर्थक था. बीजेपी ने निर्मला सीतारमण को पार्टी का प्रवक्ता नियुक्त किया. उन्हें पार्टी की आवाज और चेहरे के रूप में पहचाना जाने लगा. आंध्र प्रदेश से राज्य सभा के लिए चुने जाने के बाद उन्हें 2014 में नरेंद्र मोदी सरकार कैबिनेट में राज्यमंत्री के रूप में शामिल किया गया.

रक्षा मंत्रालय से वित्त मंत्री तक सफर
  • 5/6

रक्षा मंत्रालय से वित्त मंत्री तक सफर
नरेंद्र मोदी सरकार में निर्मला सीतारमण को 3 सितंबर 2017 में देश की रक्षा मंत्री के रूप में नियुक्ति दी गई. इसके साथ ही सीतारमण पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के बाद देश की दूसरी फुल टाइम रक्षा मंत्री बन गईं. इंदिरा गांधी ने 1970 और 71 के बीच थोड़े समय के लिए यह पद संभाला था. इसके बाद 31 मई 2019 को उन्हें वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई. 5 जुलाई 2019 को सीतारमण ने अपना पहला बजट पेश किया था. तब से अब तक वह देश की वित्त मंत्री बनी हुई हैं. 

दुनिया की शक्तिशाली महिलाओं में शामिल
  • 6/6

दुनिया की शक्तिशाली महिलाओं में शामिल
भारत की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को फोर्ब्स 2021 की दुनिया की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची में शामिल किया गया था. इस लिस्ट में सीतारमण को 37वें स्थान पर रखा गया था. इसके अलावा फॉर्च्यून की रैंकिंग लिस्ट में उन्हें देश की सबसे सशक्त महिला माना गया था. बता दें, सीतारमण को शास्त्रीय संगीत बेहद पसंद है और उनके पास शास्त्रीय गीतों का अच्छा-खासा संग्रह भी मौजूद है. वह भगवान श्री कृष्ण की भी अनन्य भक्त मानी जाती हैं.