scorecardresearch
 

Budget 2022 Post office: डाकघर खातों से बैंक अकाउंट में ऑनलाइन ट्रांसफर होगा पैसा, जुड़ेंगे 1.5 लाख पोस्ट ऑफिस

Post Office Budget: इस बार के बजट में केंद्र सरकार देश के 1.5 लाख डाकघरों को सरकार बैंकिंग सेक्टर से जोड़ने जा रही है. इन सभी डाक घरों को नेट बैंकिंग से जोड़ा जाएगा.

X
पोस्ट ऑफिस को बैंक जैसा बनाने जा रही है सरकार पोस्ट ऑफिस को बैंक जैसा बनाने जा रही है सरकार
स्टोरी हाइलाइट्स
  • डाकघर को इकोनॉमी से जोड़ने की पहल
  • वित्तीय समावेशन की दिशा में सरकार की पहल
  • डाकघर खाते पर ATM की सुविधा

Union Budget: बजट 2022-23 में केंद्र सरकार देश के डाकघरों में आमूल-चूल बदलाव का खाका लेकर आई है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार देश के सभी 1.5 लाख डाकघरों को कोर बैंकिंग सिस्टम से जोड़ने जा रही है.. इसके साथ ही इन डाकघरों के खाताधारकों को नेट बैंकिंग, कोर बैंकिंग और एटीएम की सुविधा दी  जाएगी. पोस्ट ऑफिस के खाता धारक अपने अकाउंट से बैंकों के खाते में भी पैसे भेज सकेंगे. 

डाकघर के खाते से बैंक खाते में भेज पाएंगे पैसा

वित्त मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार वित्तीय समावेशन की दिशा में लगातार काम कर रही है. वित्त मंत्री ने कहा, " 2022 में शत प्रतिशत 1.5 लाख डाक घरों में कोर बैंकिंग सिस्टम चालू हो जाएगा. इससे फाइनेंसियल इन्क्लूजन संभव होगा. ग्राहक नेटबैंकिंग के माध्यम से अपना खाता संचालित कर सकेंगे. खाताधारकों को मोबाइल बैंकिंग और एटीएम की सुविधा मिलेगी. 

बजट में क्या हुआ सस्ता और क्या महंगा? जानें- आम आदमी को मिली राहत या बढ़ा जेब का बोझ 

सरकार की महात्वाकांक्षी योजना बताते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार के इस सुविधा के बाद डाक घर के खाते से बैंक खाते में पैसे का ऑनलाइन ट्रांसफर संभव हो सकेगा. उन्होंने कहा कि इससे विशेष तौर पर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को सुविधा मिलेगी. किसान और सीनियर सिटीजन इससे ज्यादा लाभ ले सकेंगे.

75 जिलों में 75 डिजिटल बैंक 

वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार हाल के वर्षों डिजिटल बैंकिंग और डिजिटल लेनदेन में तेजी से बढ़ोतरी हुई है. इसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए सरकार स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ मनाते हुए देश के 75 जिलों में 75 डिजिटल बैंकिंग यूनिट्स की स्थापना करेगी. ये डिजिटल बैंक सरकारी बैंक खोलेंगे. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें