scorecardresearch
 
ऑटो न्यूज़

Dhanteras 2021: धनतेरस पर कार खरीदने को लेकर कंफ्यूजन? ये 5 बातें हैचबैक को बनाती है औरों से बेहतर

हैचबैक कारें होती हैं बेहतर
  • 1/7

धनतेरस (Dhanteras Shopping 2021) के मौके पर हम में से कई लोग नई कार खरीदने का प्लान कर रहे होंगे. लेकिन कंफ्यूजन भी होगा कि हैचबैक कार ली जाए या एसयूवी या फिर सेडान. अगर इंडियन मार्केट को देखें तो अनाधिकारिक तौर पर हैचबैक कारें ही सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली कार हैं. तो यहां हम आपको बताने जा रहे हैं हैचबैक कारों के बारे में 5 ऐसी बातें जो इसे और सेगमेंट की कारों से बेहतर बनाती हैं.

हैचबैक कारें माइलेज में दमदार
  • 2/7

जिस तरह से देश में पेट्रोल और डीजल के अलावा बाकी ईंधन की कीमतें भी तेजी से बढ़ रही हैं, उस हिसाब से किसी कार का माइलेज आपकी जेब पर सबसे ज्यादा असर डालता है. अगर हैचबैक या कॉम्पैक्ट हैचबैक कार की बात की जाए तो भारत में मिलने वाली इस तरह की लगभग सभी कारें करीब 20 किलोमीटर प्रति लीटर से अधिक का माइलेज देती हैं. वहीं सेडान या एसयूवी सेगमेंट में ये 15 से 20 किलोमीटर प्रति लीटर तक ही होता है.

पार्किंग के लिए चाहिए कम जगह
  • 3/7

शहरों में जिस तरह की लाइफस्टाइल एक आम आदमी की है. उस लिहाज से भी हैचबैक कारें मुफीद होती हैं. वजह साइज में छोटी होने की वजह से ये पार्किंग स्पेस कम लेती हैं. वहीं ट्रैफिक में भी इन्हें निकालना सेडान या एसयूवी के मुकाबले आसान होता है. एक कॉम्पैक्ट एसयूवी का साइज 4 मीटर के आसपास ही होता है.

भारतीय सड़कों के हिसाब से ग्राउंड क्लियरेंस
  • 4/7

हैचबैक कारें छोटी होती हैं तो लोगों के बीच एक धारणा होती है कि इनका ग्राउंड क्लियरेंस कम होता होगा. लेकिन भारतीय सड़कों के हिसाब से किसी हैचबैक कार का ग्राउंड क्लियरेंस एक दम सही होता है. Maruti Baleno और Tata Tiago जैसी कॉम्पैक्ट हैचबैक कारों का ग्राउंड क्लियरेंस 170mm तक है. वहीं Hyundai i20 और Maruti Swift से भी कंपेयर किया जाए तो इन सभी का व्हीलबेस भी 2400mm से ज्यादा है.

हैचबैक कारों में होता पर्याप्त स्पेस
  • 5/7

हैचबैक कारों को लेकर एक और गलत धारणा है कि इनमें स्पेस की कमी होती है. लेकिन अगर किसी मिड-साइज सेडान से तुलना की जाए तो कॉम्पैक्ट हैचबैक कारों में पर्याप्त स्पेस होता है. Maruti Baleno में जहां 339 लीटर का बूट स्पेस मिलता है तो Hyundai i20 esa 311 लीटर का बूट स्पेस है. वहीं Maruti Swift और Tata Tiago में करीब 250 लीटर का बूट स्पेस होता है. इस तरह अपनी कीमत और साइज के हिसाब से इनमें पर्याप्त स्पेस होता है.

हैचबैक कारों में सारे विकल्प मौजूद
  • 6/7

कई बार लोग सेडान और एसयूवी का रुख ज्यादा फीचर्स की वजह से भी करते हैं. लेकिन आज के समय में हैचबैक कारों में हर तरह के फीचर्स के साथ-साथ पेट्रोल-डीजल इंजन के ऑप्शन, सेफ्टी फीचर्स, मैनुअल और ऑटोमेटिक ट्रांसमिशन, इंफोटेनमेंट, पॉवर स्टीयरिंग जैसे सारे विकल्प मौजूद हैं. अब तय आपको करना है कि कौन से फीचर्स आपके काम के हैं और कौन से नहीं...

हैचबैक कारें कीमत में वाजिब
  • 7/7

हैचबैक कारों के साथ एक प्लस पॉइंट इनकी कीमत भी होती है. देश में लगभग सभी हैचबैक कारों की कीमत करीब 5 लाख रुपये से शुरू होती है. वहीं एक ठीकठाक सेडान की कीमत 7 या 8 लाख रुपये के आसपास बैठती है और एसयूवी की कीमत उससे भी अधिक होती है. ऐसे में कीमत के हिसाब से हैचबैक कारों के फीचर्स और माइलेज उसे एक बेहतर कार बनाते हैं. वहीं अगर आप पहली बार कार खरीद रहे हैं तो हैचबैक कार आपके लिए फायदे का सौदा हो सकती है.