scorecardresearch
 

PM-KISAN Scheme: 40 लाख ट्रांजैक्शन फेल, भूलकर भी न करें ये गलतियां वरना रुक जाएंगी आपकी भी किस्त

Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi yojana: PM-KISAN योजना के तहत लाभार्थी किसानों को सालाना 6000 रुपये जारी किए जाते हैं. ये 6000 रुपये 2-2 हजार की तीन किस्तों में किसानों के खातों में पहुंचते हैं. सरकार के मुताबिक जून 2021 तक पीएम किसान योजना के 40,16,867 ट्रांजैक्शन फेल हो चुके हैं.

PM Kisan Samman Nidhi yojana Transaction updates PM Kisan Samman Nidhi yojana Transaction updates

Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi yojana Transaction updates: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत अभी तक 40 लाख से ज्यादा किसानों के खातों में पहुंचने वाली राशि अटकी हुई है, यानी इन खातों का ट्रांजैक्शन फेल हो चुका है. इस बात की जानकारी सरकार ने दी है. साथ ही सरकार ने इतनी बड़ी संख्या में ट्रांजैक्शन के फेल होने के कारणों के बारे में भी बताया है. सरकार के मुताबिक जून 2021 तक पीएम किसान योजना के 40,16,867 ट्रांजैक्शन फेल हो चुके हैं.

बता दें कि PM-KISAN योजना के तहत लाभार्थी किसानों को सालाना 6000 रुपये जारी किए जाते हैं. ये 6000 रुपये 2-2 हजार की तीन किश्तों में किसानों के खातों में पहुंचते हैं. पीएम किसान योजना के मुताबिक छोटे और सीमांत किसान जिनके पास दो हेक्टेयर तक कृषि योग्य भूमि हो, वो इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.

सरकार के आंकड़ों के मुताबिक जून 2021 तक देशभर के किसानों के खातों में कुल 68,76,32,104 ट्रांजैक्शन (PM Kisan Samman Nidhi yojana Transaction updates) हो चुका है. ऐसे में फेल हो चुके ट्रांजैक्शन की संख्या कुल सफल लेनदेन के मुकाबले 1% से भी कम है.

इन गलतियों के कारण फेल हुए ट्रांजैक्शन और नहीं पहुंच सकी पीएम किसान योजना की किस्त
> लाभार्थी का खाता बंद हो जाने के कारण
> खाता ट्रांसफर हो जाने के कारण
> योजना के कागजों में खाते का गलत IFSC कोड होने के कारण
> बैंक द्वारा तय लिमिट से ज्यादा पैसों का लेन-देन करने के कारण
> खाता धारक की मौत 
> खाते के ब्लॉक होने के कारण
> आधार नंबर एक्टिव न होने पर (मोबाइल से लिंक न होने पर भी आधार इनेक्टिव हो सकता है)
> नेटवर्क फेल होने के कारण

PM-KSIAN योजना के लॉन्च होने के बाद से 30 जून, 2021 तक हुए सभी राज्यों में ट्रांजैक्शन की संख्या...

  राज्य खातों की संख्या (जिसमें पैसे ट्रांसफर हुए)
1. अंडमान व निकोबार द्वीप समूह 124970
2 आंध्र प्रदेश 36053705
3 अरुणाचल प्रदेश 527335
4 असम 14263427
5 बिहार 45903106
6 चंडीगढ़ 3005
7 छत्तीसगढ़ 16587723
8 दादरा और नगर हवेली 25043
9 दमन और दीव 8929
10 दिल्ली 94246
11 गोवा 60981
12 गुजरात 39973146
13 हरियाणा 13077190
14 हिमाचल प्रदेश 6749983
15 जम्मू और कश्मीर 7667707
16 झारखंड 11857415
17 कर्नाटक 35090495
18 केरल 24653147
19 लद्दाख 97640
20 लक्षद्वीप 6211
21 मध्य प्रदेश 49755906
22 महाराष्ट्र 69473946
23 मणिपुरी 1943834
24 मेघालय 944302
25 मिजोरम 731182
26 नगालैंड 1273941
27 ओडिशा 20409732
28 पुदुचेरी 76861
29 पंजाब 15152138
30 राजस्थान  45503740
31 सिक्किम 44835
32 तमिलनाडु 29549489
33 तेलंगाना 27302026
34 दादरा और नगर हवेली और दमन और दीव 57705
35 त्रिपुरा 1582321
36 उत्तर प्रदेश 163576770
37 उत्तराखंड 6020012
38 पश्चिम बंगाल 1407960

पीएम किसान योजना के खातों में ट्रांजैक्शन के फेल होने के मुद्दों से निपटने और ऐसे रजिस्टर्ड किसान परिवारों को भुगतान के लिए सरकार ने एक मानक संचालन प्रक्रिया (Standard Operating Procedure, SOP) विकसित किया है. इस एसओपी को सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को केंद्र सरकार की ओर से आवश्यक कार्रवाई के लिए जारी किया गया है.

साथ ही सरकार ने पीएम किसान सम्मान निधि के पोर्टल पर भी आधार की जानकारी ठीक करने, लाभार्थियों के स्टेटस को देखने, अपने खातों में जानकारी को सही करने की सुविधा दी है. लाभार्थी आधिकारिक वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाकर इन सुविधाओं का लुत्फ उठा सकते हैं.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें