scorecardresearch
 

Organic Farming: जम्मू-कश्मीर में ऑर्गेनिक फार्मिंग पर दिया जा रहा जोर, किसान मेले का हुआ आयोजन

Kisan Mela: 'आजतक' के साथ बातचीत में एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट के डायरेक्टर चौधरी इकबाल ने कहा कि कश्मीर के अधिकतर इलाकों में पहले से ही ऑर्गेनिक फार्मिंग होती है और किसानों को पहाड़ी और दूरदराज इलाकों में ऑर्गेनिक फार्मिंग के फायदे और सरकार की तरफ से किसानों को दी जाने वाली सहायता के बारे में अवगत कराना जरूरी है.

X
प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो- AFP) प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो- AFP)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ऑर्गेनिक फार्मिंग के फायदों से अवगत कराया गया
  • पॉलीहाउसेस के बीच में सब्जियां उगा सकते हैं

Jammu Kashmir Organic Farming: जम्मू-कश्मीर के पहाड़ी और दूर-दराज इलाकों में कृषि विभाग ऑर्गेनिक फार्मिंग पर जोर दे रहा है. रविवार को नियंत्रण रेखा से सटे इलाके मचल सेक्टर में कृषि विभाग की तरफ से एक किसान मेले का आयोजन किया गया, जिसमें कई गांवों के किसानों को ऑर्गेनिक फार्मिंग के फायदों से अवगत कराया गया. 

'आजतक' के साथ बातचीत में एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट के डायरेक्टर चौधरी इकबाल ने कहा कि कश्मीर के अधिकतर इलाकों में पहले से ही ऑर्गेनिक फार्मिंग होती है और किसानों को पहाड़ी और दूरदराज इलाकों में ऑर्गेनिक फार्मिंग के फायदे और सरकार की तरफ से किसानों को दी जाने वाली सहायता के बारे में अवगत कराना जरूरी है. चौधरी का कहना था कि कश्मीर में कृषि उत्पादन बढ़ाने के लिए कई तकनीक और टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल होता है जिसमें पॉलीहाउस भी शामिल है जहां किसान किसी भी मौसम और तापमान में पॉलीहाउसेस के बीच में सब्जियां उगा सकते हैं.

किसानों के बीच यह टेक्नोलॉजी आम करने के लिए उन्हें सरकार की तरफ से सहायता भी दी जा रही है. डायरेक्टर एग्रीकल्चर ने किसानों में मुफ्त बीच भी मुहैया कराए. गौरतलब है कि कश्मीर में उगने वाली सब्जियां और दूसरे कृषि उत्पाद की मांग देश के साथ-साथ विदेशों में बढ़ने लगी है और कुछ ही दिन पहले दुबई से आए फूड इंडस्ट्री से जुड़े व्यापारियों ने कश्मीर में उगने वाली सब्जियां और कश्मीर के शहद को खरीदने की बड़ी रुचि दिखाई है.

इन अंतरराष्ट्रीय बाजारों में कश्मीर के किसानों को अपनी पैदावार की कई गुना ज्यादा कीमत भी मिल पाएगी. इसी मांग को देखते हुए जम्मू-कश्मीर का कृषि विभाग अब कश्मीर में कृषि उत्पादन को बढ़ाने के लिए जोर दे रहा है और इससे किसानों की आमदनी दोगुनी करने का लक्ष्य भी पूरा होगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें