scorecardresearch
 

पुतिन ने ग्रेटा थनबर्ग पर कसा तंज, बोले- भाषण में थी जानकारियों की कमी

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र में पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग के भाषण में जानकारियों की कमी थी. ग्रेटा को कुछ लोग बरगला रहे हैं. उसके जरिए ऐसी मांगें रखी जा रही हैं जो सच्चाई से दूर हैं.

रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि युवाओं को बरगलाना बंद करे लोग. रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि युवाओं को बरगलाना बंद करे लोग.

  • पुतिन बोले- कुछ समूह कर रहे हैं ग्रेटा का दुरुपयोग
  • कोई उसे बताए कि आधुनिक दुनिया बेहद जटिल है

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र में पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग के भाषण में जानकारियों की कमी थी. ग्रेटा को कुछ लोग बरगला रहे हैं. उसके जरिए ऐसी मांगें रखी जा रही हैं जो सच्चाई से दूर हैं. पुतिन ने एनर्जी कॉन्फ्रेंस में बोलते हुए कहा कि जाओ पहले विकासशील देशों को समझाओ कि क्यों वो गरीबी में जी रहे हैं. वो स्वीडन से ये बात क्यों नहीं पूछतीं?. पुतिन ने बिना नाम बताए कहा कि कुछ अंतरराष्ट्रीय समूह अपने मतलब के लिए ग्रेटा थनबर्ग का उपयोग कर रहे हैं.

ट्रंप ने कसा तंज तो ग्रेटा थनबर्ग ने 'टि्वटर बायो’ बदल कर किया ट्रोल

16 साल की ग्रेटा थनबर्ग ने पिछले महीने संयुक्त राष्ट्र की समिट में पूरी दुनिया की सरकारों को यह कहकर झकझोर दिया था कि आपकी हिम्मत कैसे हुई, दुनिया के पर्यावरण को बर्बाद करने की. इसी भाषण पर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि मैं उसके भाषण से सहमत नहीं हूं. किसी ने ग्रेटा को यह नहीं समझाया कि आधुनिक दुनिया बेहद जटिल और अलग है. उसे कोई बताएगा कि अफ्रीका या एशिया के किसी भी देश में रहने वाले लोग उसी तरह से आरामदायक जीवन जीना चाहते हैं, जैसा कि उसके देश स्वीडन में लोग जीते हैं.

प्रियंका चोपड़ा ने किया ग्रेटा थनबर्ग का सपोर्ट, लोग बोले- पहले रॉल्स रॉयस तो बेच दो

इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी ग्रेटा थनबर्ग का मजाक उड़ाया था. वहीं, कनाडा के सांसद मैक्सिम बर्नियर ने ग्रेटा को मानसिक रूप से असंतुलित बताया था. इसके जवाब में ग्रेटा थनबर्ग ने कहा था कि बच्चों का मजाक उड़ाना ये बताता है कि हमारा संदेश कितना मजबूत और ऊंचा है.

ग्रेटा अर्नमैन थनबर्ग- 16 साल की उम्र में नोबेल के लिए नामित होने वाली लड़की

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि दुनियाभर के युवाओं को पर्यावरण संबंधी मुद्दों पर ध्यान देना चाहिए और हमें उन्हें समर्थन देना चाहिए. लेकिन उससे पहले ये जान लेना बेहद जरूरी है कि ऐसे युवाओं का कोई अपने मतलब के लिए दुरुपयोग तो नहीं कर रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें