scorecardresearch
 

दोस्त का मर्डर करने पर भारतीय मूल के अमेरिकी छात्र को आजीवन कारावास

अमेरिका की एक अदालत ने अपने दोस्त की हत्या करने के मामले में 25 वर्षीय भारतीय मूल के एक अमेरिकी नागरिक को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है.

X
Symbolic Image Symbolic Image

अमेरिका की एक अदालत ने अपने दोस्त की हत्या करने के मामले में 25 वर्षीय भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है.

दोषी ठहराया गया शख्स इंजीनियरिंग का छात्र है और उसने प्रेम प्रसंग की वजह से हत्या की वारदात को अंजाम दिया.

जॉर्ज वाशिंगटन यूनिवर्सिटी में स्नातक के छात्र राहुल गुप्ता ने अदालत में कई बार अपने बयान बदले, लेकिन उसने अपने दोस्त मार्क वाग (24) की हत्या की बात कबूल की.

दरअसल, राहुल गुप्ता, उसकी प्रेमिका और वाग 13 अक्टूबर, 2013 को वाशिंगटन डीसी के सिल्वर स्प्र‍िंग स्थित भारतीय अमेरिका के एक अपार्टमेंट गये थे. वहां जाकर उसने पाया कि उसे छला गया है.

गिरफ्तारी रिपोर्ट के मुताबिक, राहुल गुप्ता ने पुलिस को बताया, 'मेरी प्रेमिका मेरे दोस्त के साथ मिलकर मुझे धोखा दे रही थी. मैंने उन्हें धोखा देते हुए पाया और अपने दोस्त की हत्या कर दी.'

गुप्ता और वाग एक-दूसरे को स्कूल के वक्त से ही जानते थे. वाग की जिस समय हत्या हुई, उस समय वह जॉर्ज वाशिंगटन यूनिवर्सिटी में लॉ के फर्स्ट ईयर का छात्र था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें