scorecardresearch
 

Ukraine-Russia Crises: पूर्वी यूक्रेन में कार के अंदर जोरदार धमाका, गैस पाइपलाइन में आग, युद्ध की आशंका बढ़ी!

यूक्रेन और रूस के बीच में तनातनी बढ़ती जा रही है. पूर्वी यूक्रेन में एक कार में जोरदार धमाका हुआ है. गैस पाइपलाइन के एक हिस्से में भी आग लगी है. रूस समर्थित अलगाववादी इस हमले के लिए यूक्रेन को जिम्मेदार मान रहे हैं.

X
पूर्वी यूक्रेन में कार के अंदर जोरदार धमाका (Reuters)
1:03
पूर्वी यूक्रेन में कार के अंदर जोरदार धमाका (Reuters)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जो बाइडेन की चेतावनी- कदम पीछे खींचे पुतिन
  • 'युद्ध हुआ तो रूस पर लगेगी सख्त पाबंदी'

रूस और यूक्रेन के बीच तनाव  बढ़ता जा रहा है. दावे जरूर हो रहे हैं कि आक्रमण नहीं किया जाएगा, लेकिन जमीन पर स्थिति इसके उलट दिखाई पड़ रही है. अब शुक्रवार को पूर्वी यूक्रेन में एक गाड़ी के अंदर जोरदार धमाका हुआ है. ये घटना पूर्वी यूक्रेन के डोनेट्स्क शहर में हुई है जहां पर रूस समर्थित अलगाववादियों ने कब्जा जमा रखा है. ये गाड़ी क्षेत्रीय सुरक्षा के प्रमुख डेनिस सिनेंकोव की बताई गई है. इसके अलावा पूर्वी यूक्रेन में गैस पाइपलाइन के एक हिस्से में आग लग गई है. 

यूक्रेन का हमला या फिर रूस की साजिश?

अब इस हमले को लेकर ज्यादा जानकारी सामने नहीं आई है. लेकिन अमेरिका लगातार दावा कर रहा है कि रूस फॉल्स फ्लैग अभियान के तहत यूक्रेन पर धावा बोल सकता है. जानकारी के लिए बता दें कि फॉल्स फ्लैग अभियान का मतलब ये होता है कि कोई देश खुद ही अपने क्षेत्र पर हमला करे और फिर किसी दूसरे देश पर इसका आरोप लगा दे. फिर उस हमले के आधार पर जवाबी कार्रवाई कर दी जाए. 

जब से रूस और यूक्रेन के बीच तनातनी का माहौल शुरू हुआ है, पश्चिम के कई देश लगातार चेतावनी दे रहे हैं कि रूस फॉल्स फ्लैग अभियान के तहत यूक्रेन पर हमला कर सकता है. अभी के लिए इस कार ब्लास्ट वाली घटना के लिए रूस, यूक्रेन को जिम्मेदार बता रहा है. वहीं अलगाववादी के कब्जे वाले दोनों क्षेत्रों से बच्चों और महिलाओं का पलायन भी शुरू करवा दिया गया है. सभी को ये कहकर दूर भेजा जा रहा है कि यूक्रेन जल्द कोई बड़ा हमला कर सकता है. लेकिन यूक्रेन ने इन दावों को सिरे से खारिज कर दिया है. उनकी तरफ से उल्टा रूस पर आरोप लगाया गया है.

अमेरिका की रूस को फाइनल चेतावनी

अभी के लिए स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है और अमेरिकी राष्ट्रपति ने साफ कर दिया है कि रूस किसी भी पल यूक्रेन पर हमला कर सकता है. अपने संबोधन में बाइडेन ने कहा है कि अमेरिका को ऐसे इनपुट मिले हैं कि पुतिन ने यूक्रेन पर हमला करने का मन बना लिया है. वे यूक्रेन की राजधानी पर भी हमला कर सकते हैं. राष्ट्रपति बाइडेन के मुताबिक वे अमेरिकी सेना को यूक्रेन बॉर्डर पर नहीं भेजने वाले हैं. लेकिन उनका समर्थन यूक्रेन के साथ रहने वाला है.

जो बाइडेन ने जोर देकर कहा है कि अगर रूस ने कदम पीछे नहीं खींचे तो सख्त एक्शन लिया जाएगा. तमाम तरह की पाबंदियां लगा दी जाएंगी. अमेरिका ने सलाह दी है कि रूस अभी भी कूटनीति के जरिए स्थिति को संभाल सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें