scorecardresearch
 

चीन ने लॉन्च किए 3 दूर संवेदी उपग्रह, जानें क्या होगा फायदा

चीन अपनी निगरानी क्षमताओं को बढ़ाने और सुधारने के लिए लगातार प्रयासरत है और इसी कड़ी में उसने मंगलवार को तीन दूर संवेदी उपग्रह लॉन्च किए हैं, जो संबंध‍ित व्यवसायिक उपयोग को बढ़ावा देगा.

X
चीन उपग्रह (फोटो: रायटर) चीन उपग्रह (फोटो: रायटर)

चीन अपनी निगरानी क्षमताओं को बढ़ाने और सुधारने के लिए लगातार प्रयासरत है और इसी कड़ी में उसने मंगलवार को तीन दूर संवेदी उपग्रह लॉन्च किए हैं, जो संबंध‍ित व्यवसायिक उपयोग को बढ़ावा देगा. दूर संवेदी उद्योग में वो इंडस्ट्रीज शामिल होती हैं जो वायरलेस तकनीक के निर्माण से जुड़ी होती हैं. मसलन, विमानों की रडार तकनीक, सेटेलाइट फोन जैसे वायरलेस उत्पाद.

कौन-कौन से तीन उपग्रह हुए लॉन्च

चीन ने जिन तीन उपग्रहों को आज दोपहर 12:50 बजे लॉन्च किया उनके नाम क्रमश: जिलिन-1 04, जिलिन-1 05 और जिलिन-1 06 हैं. इन तीनों उपग्रहों को शांक्सी प्रांत के ताइयुआन उपग्रह प्रक्षेपण केंद्र से छोड़ा गया. यह जिलिन-1 उपग्रह श्रृंखला का तीसरा प्रक्षेपण था. इन उपग्रहों को चीन के अंतरिक्ष विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी निगम द्वारा विकसित लांग मार्च-6 रॉकेट के जरिए प्रक्षेपित किया गया.  

क्या होगा लाभ

इन उपग्रहों के जरिये अधि‍क बड़ी और बेहतर तस्वीरें व वीडियो देखे जा ससकेंगे. यही नहीं मल्टी-स्पेक्ट्रल इमेजिंग के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाएगा. इससे एकत्रित होने वाले आंकड़े प्रशासनिक और वाणिज्यिक ग्राहकों के काम भी आएंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें