scorecardresearch
 

श्रीलंकाः 5 दिन तक तेल के लिए लाइन में लगे रहने के बाद ट्रक ड्राइवर ने तोड़ा दम, संसद सत्र बीच में खत्म

भीषण आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका के एक पेट्रोल पर पांच दिन से ईंधन के लिए कतार में लगे रहने के बाद एक ट्रक चालक का निधन हो गया. वहीं, फ्यूल संकट के कारण संसद सत्र भी बीच में ही खत्म करना पड़ा.

X
श्रीलंका के एक पेट्रोल पंप पर ईंधन के लिए लगी लंबी लाइन (फाइल फोटोः पीटीआई) श्रीलंका के एक पेट्रोल पंप पर ईंधन के लिए लगी लंबी लाइन (फाइल फोटोः पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • श्रीलंका के पश्चिमी प्रांत की घटना
  • ईंधन की कतार में अब तक 10 मौतें

गंभीर आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका में ईंधन को लेकर मारा-मारी जारी है. संकटग्रस्त श्रीलंका में पेट्रोल पंपों पर ईंधन के लिए लंबी कतारें लगी हैं. हालात इतने खराब हैं कि लोगों को कई-कई दिन तक कतार में खड़े रहकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं. पेट्रोल पंप पर ईंधन का इंतजार करते-करते अब तक 10 लोगों की मौत की घटनाएं भी हुई हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक श्रीलंका के पश्चिमी प्रांत में एक पेट्रोल पंप पर ईंधन के लिए कतार में खड़े एक ट्रक चालक की मौत हो गई है. ट्रक चालक का पांच दिन तक ईंधन के लिए पेट्रोल पंप पर खड़े रहने के बाद मौत हो गई. ये घटना द्वीपीय देश श्रीलंका के पश्चिमी प्रांत के अंगुरवाटोटा की बताई जा रही है. पुलिस ने भी इस घटना को लेकर बयान जारी किया है.

श्रीलंका की पुलिस ने कहा है कि ट्रक चालक को उसके ही वाहन में मृत पाया गया. पेट्रोल पंप पर ईंधन के लिए पांच दिन तक कतार में लगे रहने के बाद ट्रक चालक का निधन हो गया. मृतक की उम्र 63 साल बताई जा रही है. श्रीलंका में ईंधन के लिए कतार में मौत की ये 10वीं घटना है. रिपोर्ट्स के मुताबिक कतार में मौत की अधिकतर घटनाओं के पीछे वजह दिल का दौरा पड़ना बताया जा रहा है.

संसद सत्र में भी करनी पड़ी कटौती

श्रीलंका में ईंधन संकट के बीच संसद सत्र में भी बीच में ही कटौती करनी पड़ी. श्रीलंका की संसद का सत्र 21 जून से शुरू होकर 24 जून तक चलना था लेकिन ईंधन संकट के कारण चार दिन के संसद सत्र को दो दिन का करना पड़ा. श्रीलंका की संसद में सदन के नेता दिनेश गुणवर्धन ने संसद सत्र में कटौती का ऐलान किया था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें