scorecardresearch
 

नेल्सन मंडेला अस्पताल में भर्ती, घर पहुंचा बिजली पानी की सप्लाई काटने का नोटिस

दक्षिण अफ्रीका के गांधी कहे जाने वाले पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला कई महीनों से अस्पताल में भर्ती हैं और जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं, मगर उनका घर जिस म्यूनिसिपैलिटी एरिया में पड़ता है, वह मंडेला को नोटिस भेजने और चेतावनी देने में लगा है.मंडेला के घर नोटिस भेजकर कहा गया है कि ये बिल चुकाओ नहीं तो घर की बिजली और पानी की सप्लाई काट दी जाएगी.

मंडेला की स्वस्थ दिनों की मुस्कान मंडेला की स्वस्थ दिनों की मुस्कान

दक्षिण अफ्रीका के गांधी कहे जाने वाले पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला कई महीनों से अस्पताल में भर्ती हैं और जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं, मगर उनका घर जिस म्यूनिसिपैलिटी एरिया में पड़ता है, वह मंडेला को नोटिस भेजने और चेतावनी देने में लगा है.मंडेला के घर नोटिस भेजकर कहा गया है कि ये बिल चुकाओ नहीं तो घर की बिजली और पानी की सप्लाई काट दी जाएगी. हालांकि संतोष की बात ये है कि जैसे ही कमेटी को इस बारे में पता चला कि नोटिस मंडेला के घर भेजा गया है, उसे वापस ले लिया गया.

ये वाकया है दक्षिण अफ्रीका के शहर जोहानेसबर्ग का. जोहानेसबर्ग की सिटी काउंसिल ने उस घर में नोटिस भेजा, जहां नेल्सन मंडेला अस्पताल में भर्ती होने से पहले तक रह रहे थे. काउंसिल ने लगभग 40 हजार रुपये का बिल 95 वर्षीय मंडेला के घर पर भेजा.हालांकि उस वक्त मंडेला एक दूसरे शहर प्रिटोरिया के एक अस्पताल में भर्ती थे.वह अभी भी वहीं पर इलाज करवा रहे हैं.

मामले का खुलासा होने के बाद काउंसिल प्रवक्ता ने कहा कि मंडेला के ह्यूटन स्थित घर पर वीकएंड के दौरान गलती से टर्मिनेशन नोटिस भेज दिया था. सोमवार को इस पर सफाई दी गई और कहा गया कि बिल और नोटिस किसी और के लिए था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें