scorecardresearch
 

तब्लीगी जमात पर सऊदी अरब ने लगाया बैन, बताया आतंकवाद का सबसे बड़ा Entry Gate

सऊदी अरब ने सुन्नी मुसलमानों के सबसे बड़े संगठन कहे जाने वाले तब्लीगी जमात पर बैन लगाने का फैसला ले लिया है. आतंकवाद का सबसे बड़ा द्वार बताते हुए वहां की सरकार ने तब्लीगी जमात पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया है.

X
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सऊदी अरब ने तब्लीगी जमात पर लगाया बैन
  • तब्लीगी जमात को बताया आतंकवाद का एंट्री गेट

सऊदी अरब ने सुन्नी मुसलमानों के सबसे बड़े संगठन कहे जाने वाले तब्लीगी जमात पर बैन लगाने का फैसला ले लिया है. आतंकवाद का सबसे बड़ा द्वार बताते हुए वहां की सरकार ने तब्लीगी जमात पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया है.

सरकार ने स्पष्ट आदेश जारी करते हुए कहा है कि अब से शुक्रवार की नमाज के दौरान लोगों को तब्लीगी जमात से मिलने की जरूरत नहीं है, उनके साथ किसी भी तरह का संपर्क रखना अनिवार्य नहीं रहेगा.

सरकार के मुताबिक ये संगठन समाज के लिहाज से खतरनाक है और देश में आतंकवाद के द्वार खोलने के दमखम रखता है. इसी वजह से सरकार ने तमाम मस्जिदों से भी अपील की है कि उनके द्वारा लोगों को जागरूक किया जाए, बताया जाए कि तब्लीगी जमात क्यों और कैसे समाज के लिए खतरनाक है.

सऊदी सरकार ये भी मानती है कि अगर लोगों के बीच तब्लीगी जमात के गलत काम पहुंचाएं जाएंगे, उन्हें लगातार इसकी जानकारी दी जाएगी, ऐसी परिस्थिति में तब्लीगी की अहमियत समाज में कम हो जाएगी. अब क्योंकि सऊदी अरब में मुस्लिम संख्या काफी है, ऐसे में तब्लीगी जमात के लिए ये फैसला एक बड़ा झटका साबित हो सकता है.

जानकारी के लिए बता दें कि ये वहीं तब्लीगी जमात है जिसको लेकर पिछले साल भारत में काफी बवाल देखने को मिला था. कहा गया था देश में कोरोना की पहली लहर के दौरान तब्लीगी जमात ने खतरे को ज्यादा बढ़ा दिया था. वो सब बवाल तो भारत में रहा, लेकिन अब तब्लीगी पर सबसे बड़ा एक्शन सऊदी अरब ने ले लिया है. सीधे बैन लगाकार कई देशों को कड़ा संदेश दे दिया गया है.

तब्लीगी जमात संगठन की बात करें तो इसका काम इस्लाम को लेकर धार्मिक उपदेश देना होता है. लेकिन समय-समय पर इस संगठन पर भी भड़काऊ बयान देने के आरोप लगे हैं और अब सऊदी अरब ने तो आतंकवाद से इसका नाम जोड़ दिया है.

 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें