scorecardresearch
 

रूस: मेट्रो स्टेशन पर धमाके में 10 मरे, पुतिन बोले- टेरर एंगल की भी हो रही है जांच

रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में दो मेट्रो स्टेशनों पर सोमवार की शाम बम धमाके हुए हैं. इन धमाकों में कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई, वहीं करीब 25 लोग घायल हुए हैं. हताहतों में बच्चे भी बताए जा रहे हैं. सुरक्षा बलों ने एक अन्य मेट्रो स्टेशन पर एक जिंदा विस्फोटक बरामद किया है. वहीं शहर के सभी मेट्रो स्टेशनों को एहतियातन बंद करा दिया गया है.

मेट्रो ट्रेन में IED ब्लास्ट मेट्रो ट्रेन में IED ब्लास्ट

रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में दो मेट्रो स्टेशनों पर सोमवार की शाम बम धमाके हुए हैं. इन धमाकों में कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई, वहीं करीब 25 लोग घायल हुए हैं. हताहतों में बच्चे भी बताए जा रहे हैं. सुरक्षा बलों ने एक अन्य मेट्रो स्टेशन पर एक जिंदा विस्फोटक बरामद किया है. वहीं शहर के सभी मेट्रो स्टेशनों को एहतियातन बंद करा दिया गया है.

कहां हुआ धमाका?
जानकारी के मुताबिक, सेंट पीटर्सबर्ग के मेट्रो स्टेशनों पर ट्रेन को निशाना बनाया गया है. इसके कारण स्टेशन धुएं से भर गया है. धमाके के बाद स्टेशन पर अफरातफरी मच गई और पास के तीन स्टेशनों को बंद कर दिया गया है. कई लोग घायल हुए हैं.

देखें धमाके के बाद की तस्वीरें...

प्राथमिक जानकारी के मुताबिक, धमाका इतना बड़ा था कि ट्रेन का दरवाजा उड़ गए. बताया जा रहा है कि धमाके के लिए IED का इस्तेमाल किया गया है. स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक, मेट्रो स्टेशन पर जगह-जगह खून के धब्बे दिख रहे हैं. धमाकों के बाद शहर के सभी मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया गया है और सुरक्षा जांच बढ़ा दी गई है. वहीं इस हमले के बाद ISIS के समर्थक सोशल मीडिया पर इसका जश्न मनाते दिखे.

दो मेट्रो स्टेशन को बनाया निशाना
लोकल मीडिया के मुताबिक, हमलावरों ने 2 मेट्रो स्टेशनों को निशाना बनाया. धमाके के कारण मेट्रो स्टेशन की टनल में भी दरार आ गई है. सेंट पीटर्सबर्ग के सनाया स्क्वैयर और सनाया प्लोशचाद स्टेशन को निशाना बनाया गया. यहां भारी संख्या में सुरक्षाबल और कई एंबुलेंस देखी गई.

धमाकों पर ये बोले पुतिन
राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने धमाकों में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति शोक संवेदना जाहिर की है. इन धमाकों को लेकर प्रतिक्रिया देते हुए पुतिन ने कहा, जांच अधिकारी इस विस्फोट की दुर्घटना, आपराधिक कृत्य एवं आतंकी गतिविधि जैसे सभी संभावित पहलुओं से जांच कर रहे हैं.

इससे पहले 2010 में मॉस्को के दो मेट्रो स्टेशनों पर आत्मघाती हमले में 40 लोग मारे गए थे, जबकि 100 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। उस हमले की जिम्मेदारी चेचन विद्रोहियों ने लिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें