scorecardresearch
 

इजरायल में राजनाथ, नेतन्याहू ने की मुलाकात

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू से मुलाकात की. इस दौरान दोनों नेताओं ने भारत-इजरायल के बीच गर्मजोशी भरे संबंधों को और मजबूती प्रदान के लिए चर्चा की.

symbolic image symbolic image

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू से मुलाकात की. इस दौरान दोनों नेताओं ने भारत-इजरायल के बीच गर्मजोशी भरे संबंधों को और मजबूती प्रदान के लिए चर्चा की.

राजनाथ सिंह का स्वागत करते हुए नेतन्याहू ने कहा, 'भारतीय और इजरायली कौशल व निरंतरता के बंधन को साझा करते हैं.' गृहमंत्री के तौर पर इजरायल के पहले आधिकारिक दौरे पर पहुंचे सिंह ने इससे पहले ट्वीट किया, 'भारत और इजरायल गर्मजोशी भरे और सौहार्दपूर्ण संबंध साझा करते हैं. हम इसे और मजबूत बनाने की उम्मीद करते हैं.' सिंह को बुधवार सुबह ही इजरायल पहुंचना था, लेकिन मोनाको में खराब मौसम की वजह से वहां से उनकी उड़ान रद्द कर दी गई थी.

गृह मंत्री इंटरपोल की आमसभा में शामिल होने के लिए मोनाको गए थे. सिंह की योजना में अनपेक्षित परिवर्तन के बावजूद इजरायली सरकार ने उनका भव्य स्वागत किया. इसके साथ ही नेतन्याहू, रक्षा मंत्री मोशे यालोन और जन सुरक्षा मंत्री यित्झिक अहारानोविच ने उनसे मुलाकात करने के लिए अपने व्यस्त कार्यक्रम में फेरबदल किया. सिंह ने अपनी यात्रा पुराने यरूशलम शहर में पवित्र स्थलों का दौरा करने के साथ शुरू की.

पवित्र स्थलों का दौरा करने के बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार योस्सी कोहेन के साथ हेलीकाप्टर से जॉर्डन घाटी और इजरायल के उत्तरी और दक्षिण क्षेत्र का दौरा करने के लिए रवाना हो गए ताकि देश की सुरक्षा स्थिति के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकें. कोहेन ने हाल ही राजधानी दिल्ली में सिंह के साथ मुलाकात की थी और समान चुनौतियों व उनके हल को लेकर चर्चा की थी.

एक वरिष्ठ इजरायली अधिकारी ने कहा, 'भारत हमारा एक बहुत महत्वपूर्ण सहयोगी है और हम गृह मंत्री की यात्रा को बहुत महत्वपूर्ण मानते हैं. हम उपयोगी विचार विमर्श की आशा करते हैं जो दोनों देशों के बीच सहयोग को मजबूती प्रदान करेगी.' जून 2000 के बाद यह भारतीय गृह मंत्री की होने वाली पहली यात्रा है, जब लालकृष्ण आडवाणी ने यरूशलम की यात्रा की थी जो कि द्विपक्षीय सहयोग में मजबूती का प्रतीक थी.

-इनपुट भाषा से

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×