scorecardresearch
 

PM Modi-Joe Biden Meeting: आज होगी मोदी-बाइडेन की मुलाकात, क्या होगी बात? पूरी दुनिया की नज़र व्हाइट हाउस पर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वाशिंगटन में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से मुलाकात करेंगे. दोनों नेताओं की ये पहली मुलाकात है, जिसपर पूरे विश्व की निगाहें हैं. कोरोना संकट, अफगानिस्तान के अलावा आतंकवाद समेत कई ऐसे मसले हैं जिनपर दोनों नेताओं के बीच चर्चा हो सकती है.

X
PM Narendra Modi and US President Joe Biden (File Picture) PM Narendra Modi and US President Joe Biden (File Picture)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पीएम मोदी और जो बाइडेन की मुलाकात आज
  • भारतीय समयानुसार रात 8.30 बजे मीटिंग
  • कमला हैरिस से मिल चुके हैं पीएम मोदी

PM Narendra Modi-President Joe Biden Meeting: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिकी दौरे का आज दूसरा दिन है और ये बेहद खास होने जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (US President Joe Biden) की आज मुलाकात होनी है, ये मीटिंग भारतीय समय के मुताबिक रात 8.30 बजे तय है. दोनों नेता पहली बार मिल रहे हैं और इस मुलाकात पर पूरी दुनिया की नज़र टिकी है.  

इस अहम मीटिंग से पहले ही प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात की है. ऑस्ट्रेलिया और जापान के प्रधानमंत्री से भी मिले हैं और भारत के साथ मजबूत रिश्ते की पहल की है. अब सभी की नजरें अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन और पीएम मोदी की मुलाकात पर टिकी हैं, जिसमें आतंकवाद (Terrorism) समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा होने की उम्मीद है.

क्लिक करें: ‘PAK में एक्टिव आतंकी संगठन, एक्शन जरूरी’, PM मोदी-कमला हैरिस की मीटिंग से कड़ा संदेश

मोदी-बाइडेन की मुलाकात, क्या होगी बात?

मौजूदा वक्त में दुनिया में जिस तरह की राजनीतिक उथल-पुथल मची है, इन हालात में दुनिया के दो बड़े लोकतंत्र के मुखिया किस तरह इन चुनौतियों से निपटने की रणनीति बनाते हैं. इस पर दुनिया भर की नजर है. इस बैठक के दौरान जिन मसलों पर चर्चा संभव है, वो इस प्रकार हैं...
•    सीमा पार से आतंकवाद का मुद्दा 
•    दुनियाभर में आतंकी नेटवर्क के बढ़ते प्रभाव पर भी बात
•    अफगानिस्तान के मौजूदा हालात 
•    सुरक्षा और सहयोग का मुद्दा 
•    कोरोना महामारी से निपटने की नई चुनौतियां

इस साल की शुरुआत में जो बाइडेन अमेरिका के राष्ट्रपति बने थे, तब से अबतक दोनों नेता तीन बार बातचीत कर चुके हैं. तीन समिट में भी शामिल हुए हैं, इसके अलावा कुछ अन्य कार्यक्रमों में भी हिस्सा बने हैं. लेकिन बतौर राष्ट्रपति जो बाइडेन की पीएम मोदी के साथ पहली आमने-सामने मुलाकात है. माना जा रहा है नरेंद मोदी का दौरा भारत और अमेरिका के अगले तीन सालों का ब्लूप्रिंट तैयार कर देगा.

कारोबारी रिश्तों के अलावा चीन को लेकर अमेरिका की नीति भारत के लिए बेहद अहमियत रखी है. पीएम मोदी के दौरे से पहले बाइडेन का बयान भारत के लिए सुखद संकेत था, जिसमें उन्होंने कोल्ड वॉर से दूरी बनाने की बात कही थी. 

कमला हैरिस से मिले पीएम मोदी

जो बाइडेन से मुलाकात से पहले पीएम मोदी और कमला हैरिस की मीटिंग हुई. दोनों की ये पहली मीटिंग थी, जिसमें कोरोना, आतंकवाद, अफगानिस्तान समेत तमाम मसलों पर चर्चा हुई. कमला हैरिस की ओर से आतंकवाद का मसला उठाया गया, साथ ही कहा गया कि किस तरह पाकिस्तान में आतंकी संगठन एक्टिव हैं और उनपर एक्शन की ज़रूरत है. दोनों नेताओं ने ही भारतीय उपमहाद्वीप क्षेत्र पर चर्चा की, कोरोना वैक्सीनेशन की रफ्तार को लेकर मंथन किया. पीएम मोदी ने कमला हैरिस को भारत आने का न्योता भी दिया.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने तीन दिवसीय अमेरिकी दौरे पर हैं. पहले दिन उन्होंने कई कंपनियों के सीईओ, जापान-ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्रियों और कमला हैरिस से मुलाकात की. अब वह जो बाइडेन से मिलेंगे, क्वाड देशों की बैठक में शामिल होंगे और अंत में पीएम मोदी को संयुक्त राष्ट्र महासभा में संबोधन देना है. कोरोना संकट काल में पीएम मोदी का ये पहला बड़ा विदेशी दौरा है. 

(इनपुट- आजतक ब्यूरो) 


 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें