scorecardresearch
 

और बढ़ा तनाव, ईरान पर नए प्रतिबंध और सैन्य कार्रवाई करेगा अमेरिका

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि हम ईरान के ऊपर सोमवार से नए बड़े प्रतिबंध लगाने जा रहे हैं. हालांकि उन्होंने यह भी कहा, मैं उस दिन का इंतजार कर रहा हूं, जब ईरान के ऊपर से सारे प्रतिबंध हटा लिए जाएंगे और वह फिर से उत्पादक और समृद्ध देश बन जाएगा. यह जितनी जल्दी हो, उतना बेहतर है.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो-IANS) अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो-IANS)

अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है. अमेरिका का सर्विलांस ड्रोन को मार कर गिराए जाने के बाद ईरान और अमेरिका के बीच तनाव काफी बढ़ गया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान के खिलाफ सोमवार से नए और बड़े प्रतिबंध लगाए जाने का ऐलान किया है. ट्रंप ने यह भी कहा है कि वह ईरान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई पर अब भी विचार कर रहे हैं.

डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान पर नए प्रतिबंध थोपने की यह बात यह कहने के कुछ घंटे बाद कि अमेरिका इस्लामिक गणतंत्र का नया "सबसे अच्छा दोस्त" होगा यदि वह परमाणु हथियार का त्याग कर दे तो. अमेरिका का सर्विलांस ड्रोन को मार कर गिराए जाने के बाद ईरान और अमेरिका के बीच तनाव काफी बढ़ गया है. इस तनाव की वजह से दोनों देशों के बीच वाक युद्ध भी चल रहा है.

ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘हम ईरान के ऊपर सोमवार से नए बड़े प्रतिबंध लगाने जा रहे हैं.’ हालांकि उन्होंने यह भी कहा, ‘मैं उस दिन का इंतजार कर रहा हूं, जब ईरान के ऊपर से सारे प्रतिबंध हटा लिए जाएंगे और वह फिर से उत्पादक और समृद्ध देश बन जाएगा. यह जितनी जल्दी हो, उतना बेहतर है.’

ट्रंप ने शुक्रवार को कहा था कि उन्होंने ईरान पर सैन्य कार्रवाई इसलिए नहीं की क्योंकि इसमें 150 आम नागरिक मारे जाते. गुरुवार को ईरान द्वारा अमेरिकी ड्रोन मार गिराए जाने के बाद दोनों देशों के बीच संबंध और खराब हो गए है.

ट्रंप ने कहा कि उनकी ईरान में तीन जगहों पर हमला करने की योजना थी. इस मामले पर ईरान का कहना है कि ड्रोन ने उसके एयरस्पेस का उल्लंघन किया है. वहीं वॉशिंगटन ने कहा कि ड्रोन इंटरनेशनल एयरस्पेस में मार गिराया गया. ट्रंप ने एनबीसी के मीट द प्रेस प्रोग्राम में एक इंटरव्यू के दौरान वाइट हाउस में कहा, ''मुझे यह अच्छा नहीं लगा.'' बहरहाल बता दें कि दोनों देशों के तनाव के बीच पिछले दिनों अमेरिका ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक बुलाने का आग्रह किया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें