scorecardresearch
 

ट्रंप ने की विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन की छुट्टी, माइक पोंपियो को दी जिम्मेदारी

उन्होंने लिखा, 'रेक्स टिलरसन को उनकी सेवाओं के लिए धन्यवाद.' ट्रंप ने सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी के प्रमुख के तौर पर गिना हसपेल की नियुक्ति की भी घोषणा की. एजेंसी के शीर्ष पद पर चुनी जाने वाली वह पहली महिला होंगी.

X
ट्रंप ने रेक्स टिलरसन को विदेश मंत्री के पद से हटाया
ट्रंप ने रेक्स टिलरसन को विदेश मंत्री के पद से हटाया

सार्वजनिक मंच पर कहा-सुनी के कई वाकयों के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को अपने शीर्ष सहयोगी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन को पद से हटा दिया और उनकी जगह सीआईए के निदेशक माइक पोंपियो को नियुक्त किया.

ट्रंप ने ट्वीट किया, “ माइक पोंपियो, सीआईए के निदेशक हमारे नए विदेश मंत्री बनेंगे. वह बेहतरीन कार्य करेंगे.”

ट्रंप ने सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी के प्रमुख के तौर पर गिना हसपेल की नियुक्ति की भी घोषणा की. एजेंसी के शीर्ष पद पर चुनी जाने वाली वह पहली महिला होंगी.

अफ्रीका के दौर पर निकले टिलरसन को यात्रा के बीच से ही वापस लौटना पड़ा. उन्होंने इसके लिए “कार्य की मांग और व्यक्तिगत मुलाकातों के लिए वाशिंगटन में मौजूद रहने की जरूरत” का हवाला दिया.

उत्तर कोरिया और रूस पर अमेरिका की नीति समेत कई मुद्दों पर एक्सोन मोबिल के पूर्व प्रमुख और राष्ट्रपति के बीच मतभेद थे.

बाद में ट्रंप ने कहा कि उन्होंने टिलरसन को पद से हटाने का फैसला निजी तौर पर लिया क्योंकि कई प्रमुख मुद्दों पर उनके साथ मतभेद थे.

ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा, ” मैंने यह फैसला ( उन्हें हटाने का) स्वयं लिया है.” सवालों का जवाब देते हुए ट्रंप ने कहा कि ईरान समेत प्रमुख मुद्दों पर उनके टिलरसन के साथ मतभेद थे.

 माइक पोंपियो

उन्होंने कहा, “रेक्स और मैं लंबे समय से इस पर बात कर रहे थे. हम असल में साथ में अच्छे से काम कर रहे थे लेकिन कई मामलों में हम एक-दूसरे से असहमत थे. ईरान समझौते को देखें: मेरे ख्याल से यह भयावह है, मेरा मानना है कि उनके लिए यह ठीक था. मैं या तो इसे तोड़ना चाहता था या कुछ करना चाहता था और वह कुछ अलग सोचते थे.”

उन्होंने कहा, “हम लोग असल में एक तरीके से नहीं सोच रहे थे. माइक पोंपियो और मेरी सोच समान है. मेरा ख्याल है कि यह फैसला बहुत अच्छा साबित होगा.”

व्हाइट हाउस द्वारा बाद में जारी एक बयान में ट्रंप ने कहा, “मुझे पूरा विश्वास है कि वह ( पोंपियो) इस नाजुक मोड़ पर इस कार्य के लिए बिलकुल सही व्यक्ति हैं. विश्व में अमेरिका के पक्ष को कायम रखने, हमारे सहयोगों को मजबूत करने, हमारी प्रतिकूलताओं से निपटने और कोरियाई प्रायद्वीप को परमाणु मुक्त बनाने की हमारी योजनाओं को जारी रखेंगे.”

ट्रंप ने कहा, “सेना और कांग्रेस में और सीआईए के प्रमुख के तौर पर उनके अनुभव ने उन्हें नई भूमिका के लिए तैयार किया है और मैं उनके नाम के शीघ्र अनुमोदन का आग्रह करता हूं.”

अमेरिकी सीनेट द्वारा उनके नाम पर मुहर लगना बाकी है.

पिछले साल अक्तूबर में टिलरसन को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उन खबरों को खारिज करने के लिए मजबूर किया गया था जिसमें उनके पद छोड़ने की बातें कहीं गईं थी. हालांकि उन्होंने उस रिपोर्ट पर कोई टिप्पणी नहीं की थी, जिसमें कहा गया था कि पेंटागन पर एक बैठक के बाद उन्होंने ट्रंप को मंदबुद्धि कहा था.

पिछले साल एक फरवरी को टिलरसन को विदेश मंत्री नियुक्त किया गया था, जिन्होंने इससे पहले कोई भी राजनीतिक पद नहीं संभाला था.

ट्रंप ने टिलरसन का भी धन्यवाद किया.

उन्होंने कहा, “पिछले 14 महीने में कई बड़े कार्य पूरे किए गए और मैं उनकी व उनके परिवार की कुशलता की कामना करता हूं.”

ट्रंप ने गिना हसपेल को सीआईए की नई निदेशक नियुक्त किया और उनकी पदोन्नति को ‘‘एक ऐतिहिसक घटना” बताया.

ट्रंप ने ट्वीट किया, “गिना हसपेल सीआईए की नई निदेशक होंगी और इस पद पर चुनी जाने वाली पहली महिला होंगी. सभी को बधाई.”

व्हाइट हाउस के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक राष्ट्रपति उत्तर कोरिया के साथ आगामी वार्ता और विभिन्न व्यापार वार्ताओं से पहले अपनी टीम को तैयार रखना चाहते हैं.

माइक ने कहा कि वह ट्रंप के “बेहद शुक्रगुजार’’ हैं जिन्होंने उन्हें सीआईए के निदेशक और विदेश मंत्री के तौर पर सेवा देने का यह अवसर दिया.

हसपेल ने भी राष्ट्रपति द्वारा उनमें विश्वास दिखाए जाने के लिए उनका शुक्रिया अदा किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें