scorecardresearch
 

2002 में भारत पर परमाणु हमला करने की सोच रहे थे परवेज मुशर्रफ!

पाकिस्तान के पूर्व सैनिक प्रमुख और पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने बताया कि वर्ष 2001 में भारतीय संसद पर हुए आतंकी हमले के बाद पैदा हुए तनाव के वक्त वह भारत के खिलाफ परमाणु हथियारों के इस्तेमाल पर विचार कर रहे थे, लेकिन जवाबी कार्रवाई के बारे में सोच कर उन्होंने अपना विचार त्याग दिया.

फाइल फोटो फाइल फोटो

पाकिस्तान के पूर्व सैनिक प्रमुख और पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने बताया कि वर्ष 2001 में भारतीय संसद पर हुए आतंकी हमले के बाद पैदा हुए तनाव के वक्त वह भारत के खिलाफ परमाणु हथियारों के इस्तेमाल पर विचार कर रहे थे, लेकिन जवाबी कार्रवाई के बारे में सोच कर उन्होंने अपना विचार त्याग दिया.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 73 वर्षीय मुशर्रफ ने उन दिनों को याद करते हुे यह भी बताया कि उस दौरान उन्होंने कई राते जागते हुए बिताईं, इस दौरान वह लगातार यही सोचते रहते थे कि भारत के खिलाफ परमाणु हथियारों का इस्तेमाल करना चाहिए या नहीं. जापानी दैनिक समाचार पत्र 'मेनची शिमबुने’से बात करते हुए परवेज मुशर्रफ ने इन बातों का खुलासा किया है.

मुशर्रफ ने कहा कि जब 2002 में दोनों देशों के बीच तनाव काफी बढ़ गए थे, तो 'एक ऐसा वक्त आया था जब परमाणु हथियारों के इस्तेमाल को लेकर बनाई गई लाईन को पार किया जा सकता था.’ अखबार ने मुशर्रफ के हवाले से ऐसा कहा है.

यहां आपको यह भी बताते चलें कि 2002 में परवेज मुशर्रफ ने सार्वजनिक रूप से कहा था कि वह परमाणु हथियारों का इस्तेमाल करने की संभावना से इनकार नहीं किया जाएगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें