scorecardresearch
 

सर्जिकल स्ट्राइक को PAK ने फिर बताया काल्पनिक, कहा- ये मनगढ़ंत

पाकिस्तान इससे पहले भी सर्जिकल स्ट्राइक को नकारता रहा है. वो हर बार इसे भारत की कल्पना करार देता है. वहीं, इसी साल अप्रैल में लंदन के वेस्टमिंस्टर सेंट्रल हॉल में 'भारत की बात, सबके साथ' कार्यक्रम में पीएम मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक की कहानी बताई थी.

X
प्रतीकात्मक फोटो
प्रतीकात्मक फोटो

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने सर्जिकल स्ट्राइक को मनगढ़ंत और कल्पना करार दिया है. दरअसल, 29 सितंबर 2016 को भारतीय सेना के जांबाज जवानों के द्वारा पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में घुसकर की गई सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो सामने आया है. वीडियो में दिख रहा है कि किस तरह जवानों ने बिना किसी चूक के साथ आतंकियों के ठिकाने को तहस-नहस कर दिया था.

बता दें, पाकिस्तान इससे पहले भी सर्जिकल स्ट्राइक को नकारता रहा है. वो हर बार इसे भारत की कल्पना करार देता है. वहीं, इसी साल अप्रैल में लंदन के वेस्टमिंस्टर सेंट्रल हॉल में 'भारत की बात, सबके साथ' कार्यक्रम में पीएम मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक की कहानी बताई थी.

पीएम मोदी ने बताया था कि 'मैंने हमारे अफसरों से कहा कि आप हिंदुस्तान को पता चले उससे पहले पाकिस्तान की फौज को फोन करके बता दो. लाशें वहां पड़ी होंगी तुम्हें समय हो तो जाकर वहां से ले आओ. हम सुबह 11 बजे से उनको फोन लगा रहे थे वो फ़ोन पर आने से डर रहे थे. 12 बजे वो फोन पर आए. इसके बाद हमने दुनिया को बताया कि भारत की सेना का ये न्याय प्राप्त करने का तरीका था.'

पीएम मोदी के बयान पर पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने कहा था, 'भारतीय पीएम का सर्जिकल स्ट्राइक का दावा हास्यास्पद है. यह भारत की कल्पना के सिवा कुछ भी नहीं है जो कभी हकीकत नहीं बन पाएगी.'

29 सितंबर 2016 को हुई थी सर्जिकल स्ट्राइक  

दरअसल, 29 सितंबर 2016 को भारतीय सेना के जांबाज जवानों के द्वारा पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में घुसकर की गई सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो सामने आया है. वीडियो में दिख रहा है कि किस तरह जवानों ने बिना किसी चूक के साथ आतंकियों के ठिकाने को तहस-नहस कर दिया था.

सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान भारतीय सेना ने रॉकेट लॉन्चर, मिसाइलों और छोटे हथियारों से हमला किया था. यह हमला भारतीय सेना ने जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में भारतीय सेना के कैंप हुए आतंकी हमले की जवाबी कार्रवाई के तौर पर किया था. पाकिस्तान की ओर से उरी पर 18 सितंबर 2016 को हमला किया गया. इस घटना के 11वें दिन बाद सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें