scorecardresearch
 

PAK विदेश मंत्री का दावा- आम श्रद्धालु की तरह करतारपुर आएंगे पूर्व PM मनमोहन सिंह

इससे पहले, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने औपचारिक रूप से मनमोहन सिंह को नवंबर में होने वाले करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह के लिए आमंत्रित किया था.

पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (फाइल फोटो-AP) पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (फाइल फोटो-AP)

  • 9 नवंबर को होना है करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन
  • पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने दिया था न्यौता

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने दावा किया है कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह में शामिल होंगे.

पाकिस्तान के कैपिटल टीवी पर कुरैशी ने अपने बयान में कहा, 'मैंने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को आमंत्रित किया था. मैं उनका शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने मुझे एक पत्र लिखा और कहा, 'मैं आऊंगा, लेकिन मुख्य अतिथि के रूप में नहीं बल्कि एक आम व्यक्ति की तरह.' कुरैशी ने कहा कि अगर वह एक आम व्यक्ति के तौर पर भी आते हैं तो हम उनका स्वागत करेंगे.

पंजाब के सीएम ने दिया था निमंत्रण

इससे पहले, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने औपचारिक रूप से मनमोहन सिंह को नवंबर में होने वाले करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह के लिए आमंत्रित किया था. करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन 9 नवंबर को होना है. इस बीच दावा किया गया कि मनमोहन सिंह ने करतारपुर कॉरिडोर उद्घाटन समारोह में भाग लेने के लिए पाकिस्तान के निमंत्रण को स्वीकार कर लिया था. उस वक्त पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने स्पष्ट किया था कि पूर्व प्रधानमंत्री उद्घाटन समारोह के लिए पाकिस्तान नहीं जाएंगे.

एक आधिकारिक प्रवक्ता ने भी इस मामले पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा था कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह 9 नवंबर को करतारपुर साहिब जाने वाले पहले सिख जत्थे में शामिल होंगे. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मनमोहन सिंह को इस जत्थे में शामिल होने का न्योता दिया था, जिसे पूर्व प्रधानमंत्री ने स्वीकार किया.

पाकिस्तान 20 डॉलर लेने पर अड़ा

16 अक्टूबर को पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर का अंतिम मसौदा भारत को भेजा था. पाकिस्तान भारतीय सिख तीर्थयात्रियों से 3120 पाकिस्तानी रुपये (20 डॉलर) लेने पर अड़ा हुआ है. मसौदे के मुताबिक, हर कोई बिना किसी प्रतिबंध के करतारपुर कॉरिडोर का उपयोग कर सकता है. इसके अलावा भारत कम से कम 10 दिन पहले तीर्थयात्रियों की एक सूची पाकिस्तान को सौंपेगा. पाकिस्तान इस पर 4 दिन में जवाब देगा. वहीं करतारपुर साहिब जाने वाले सभी यात्रियों को जीरो प्वाइंट पर परिवहन की सुविधा दी जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें