scorecardresearch
 

फिर दिखा पाकिस्तान का दोगला चेहरा, गफूर ने आतंकी बुरहान वानी को बताया हीरो

कश्मीर को लेकर एक ट्वीट करते हुए गफूर ने लिखा कि अगली पीढ़ी के बेहतर कल के लिए आज के हीरो अपनी जान दे रहे हैं. साफ है कि एक बार फिर पाकिस्तान ने साबित कर दिया है कि वह हमेशा आतंकियों के पक्ष में ही खड़ा रहता है.

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर (फोटो क्रेडिट: फेसबुक प्रोफाइल) पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर (फोटो क्रेडिट: फेसबुक प्रोफाइल)

पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान का एक बार फिर आतंक समर्थक चेहरा सामने आया है. आतंकी बुरहान वानी की बरसी के मौके पर पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने उसे हीरो करार दिया है. कश्मीर को लेकर एक ट्वीट करते हुए गफूर ने लिखा है कि अगली पीढ़ी के बेहतर कल के लिए आज के हीरो अपनी जान दे रहे हैं. साफ है कि एक बार फिर पाकिस्तान ने साबित कर दिया है कि वह हमेशा आतंकियों के पक्ष में ही खड़ा रहता है.

हिज्बुल मुजाहिद्दीन के पोस्टर बॉय बुरहान वानी को 8 जुलाई, 2016 को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में मार गिराया था. अब आज उसकी तीसरी बरसी पर पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने ट्वीट कर उसे हीरो करार दिया है.

साफ है कि पूरी दुनिया के सामने पाकिस्तान रोना रोता रहता है कि वह खुद आतंकवाद से पीड़ित देश है बल्कि हर कोई जानता है कि पाकिस्तान अपनी जमीन का इस्तेमाल भारत के खिलाफ करता है और आतंकियों की घुसपैठ कराता है.

ना सिर्फ घुसपैठ बल्कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में भी युवाओं को हिंदुस्तान के खिलाफ भड़काने की कोशिश करता है. यहां पर चल रहे पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठनों को बल देता है. आसिफ गफूर ने अपने ट्वीट के साथ #JusticeForKashmir हैशटैग का भी इस्तेमाल किया है.

बता दें कि अभी वर्ल्डकप में भारत-श्रीलंका के मैच के दौरान भी कुछ ऐसा ही एक वाक्या हुआ था. जिसमें मैदान के ऊपर हवाई जहाज के पीछे कुछ ऐसा ही लिखा था. BCCI ने आधिकारिक तौर पर इसके खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई है. 

भारत लगातार दुनिया के सामने सबूत रखता है कि पाकिस्तान अपनी जमीन का इस्तेमाल भारत के खिलाफ आतंक फैलाने में कर रहा है. लेकिन पाकिस्तान हर बार यही रोना रोता है कि वह खुद भी आतंकवाद से पीड़ित देश है और लगातार इसके खिलाफ लड़ाई लड़ रहा है. लेकिन पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता के ट्वीट इससे उलट ही तस्वीर सामने रखते हैं.

भारत ने कश्मीर पर आई रिपोर्ट का दिया जवाब

दूसरी ओर जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकार के मुद्दे पर सामने आई रिपोर्ट पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार का कहना है कि ये रिपोर्ट पिछली वाली गलत रिपोर्ट को ही आगे बढ़ाती है, जिसमें एक एजेंडा दिखता है. उन्होंने कहा कि इसमें उन बातों को सामने नहीं रखा गया है, जो भारत में लगातार पाकिस्तान की तरफ से हो रहे क्रॉस बॉर्डर टेररिज्म को उठाता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें