scorecardresearch
 

पाकिस्तान पर भड़का अफगानिस्तान, कहा- तालिबान की मदद कर रही PAK वायुसेना

अफगानिस्तान के उप-राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने कहा है कि पाकिस्तानी वायु सेना ने तालिबान के खिलाफ कार्रवाई करने को लेकर अफगान बलों को चेतावनी दी है. साथ ही उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि पाक की वायुसेना तालिबान को एयर सपोर्ट मुहैया करवा रही है.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 'पाक एयरफोर्स तालिबान को मुहैया करवा रही एयर सपोर्ट'
  • अफगान के उप-राष्ट्रपति ने किया दावा
  • 'पाक ने अफगान बलों को चेतावनी दी है'

अफगानिस्तान के उप-राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने कहा है कि पाकिस्तानी वायु सेना ने तालिबान के खिलाफ कार्रवाई करने को लेकर अफगान बलों को चेतावनी दी है. साथ ही उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि पाक की वायुसेना तालिबान को एयर सपोर्ट मुहैया करवा रही है.

उन्होंने ट्वीट कर कहा, ''पाकिस्तान की वायु सेना ने अफगान सेना और वायु सेना को आधिकारिक चेतावनी जारी की है कि स्पिन बोल्डक क्षेत्र से तालिबान को हटाने के किसी भी कदम का पाकिस्तान वायु सेना द्वारा सामना किया जाएगा. पाक की वायु सेना अब तालिबान को कुछ इलाकों में नजदीकी हवाई सहायता मुहैया करा रही है.''

बता दें कि अफगानिस्तान से अमेरिकी और नाटो सैनिकों के वापस लौटने के बाद देश में अराजकता की स्थिति पैदा हो गई है. तालिबान का दावा है कि उसने अफगानिस्तान के 80 फीसदी हिस्सों पर कब्जा कर लिया है. 

इस बीच, देश में शांति स्थापित करने के लिए अफगानिस्तान के नेता तालिबान से दोहा में वार्ता करने वाले हैं. वहीं, अफगानिस्तान ने कहा है कि अगर तालिबान के साथ बातचीत विफल रहती है तो वो भारत की सैन्य सहायता मांग सकती है. 

गौरतलब है कि बीते दिनों संघर्ष को देखते हुए अफगानिस्तान में कई देशों ने अपने कॉन्सुलेट को बंद कर दिया था. भारत ने भी अफगानिस्तान के कंधार स्थित वाणिज्यिक दूतावास से अपने स्टाफ को वापस बुला लिया है.

विदेश मंत्रालय ने बताया था कि दूतावास को बंद नहीं किया गया है, बल्कि संघर्ष की वजह से कुछ समय के लिए कंधार के दूतावास से भारतीय स्टाफ को वापस बुलाया गया है. तब तक वीजा से जुड़ा हुआ कामकाज काबुल स्थित भारतीय दूतावास से किया जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें