scorecardresearch
 

पाकिस्तान: वाघा बॉर्डर के पास विस्फोट में 55 लोगों की मौत, मोदी ने की कड़ी निंदा

वाघा बॉर्डर पर रविवार शाम भारत और पाकिस्तान के ध्वजों को नीचे उतारने के लिए आयोजित समारोह के तुरंत बाद पाकिस्तान में बॉर्डर के करीब जबरदस्त विस्फोट हुआ. इस आत्मघाती विस्फोट में 11 महिलाओं और तीन सुरक्षाकर्मियों समेत कम से कम 55 लोग मारे गए.

symbolic image symbolic image

वाघा बॉर्डर पर रविवार शाम भारत और पाकिस्तान के ध्वजों को नीचे उतारने के लिए आयोजित समारोह के तुरंत बाद पाकिस्तान में बॉर्डर के करीब जबरदस्त विस्फोट हुआ. इस आत्मघाती विस्फोट में 11 महिलाओं और तीन सुरक्षाकर्मियों समेत कम 55 लोग मारे गए. जबकि 200 लोगों के घायल होने की खबर है. आतंकी संगठन जुंदुल्लाह ने हमले की जिम्मेदारी ली है.  

पाकिस्तानी न्यूज चैनल जियो टीवी के अनुसार भी विस्फोट में 55 लोग मारे गए हैं और करीब 200 घायल हुए हैं. मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है. पंजाब पुलिस के आईजी मुश्ताक सुखेरा ने बताया कि आत्मघाती हमलावर गेट की ओर बढ़ा, उस समय समारोह देखने के बाद भीड़ परेड इलाके से निकल रही थी. यह विस्फोट भारतीय सीमा से 500 मीटर की दूरी पर हुआ है. घायल लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया है और स्थानीय लोगों से पाक सरकार ने रक्त दान करने की अपील की है. 

दूसरी ओर, पत्रकारों को घटनास्थल से हटा दिया गया है. पाकिस्तानी रेंजर्स ने घटनास्थल को जांच के लिए घेर लिया. पाकिस्तानी मीडिया में आई तस्वीरों में विस्फोट स्थल के पास मौजूद दुकानों और इमारतों में हुआ नुकसान साफ देखा जा सकता है. घटना के तुरंत बाद सुरक्षा और राहत-बचाव अधिकारी घटनास्थल की तरफ कूच कर गए.

लाहौर के सभी अस्पतालों में आपात स्थ‍िति की घोषणा कर दी गई है. प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने विस्फोट पर संज्ञान लेते हुए घटना की रिपोर्ट मांगी है. भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर इस घटना की कड़ी निंदा की है.

BSF को अलर्ट किया गया
पंजाब में भारत-पाकिस्तान सीमा के पास आत्मघाती बम हमले के बाद उस क्षेत्र में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) को अलर्ट पर रखा गया है. बीएसएफ के प्रमुख डी के पाठक ने बताया कि बीएसएफ को करीब एक पखवाड़े पहले सूचना मिली थी कि बीटिंग रीट्रीट सेरेमनी के दौरान आतंकवादी संगठन हमले को अंजाम दे सकते हैं. हर रोज सूर्यास्त से पहले दोनों देशों की सीमा की रक्षा करने वाले बल बीटिंग रीट्रीट सेरेमनी में हिस्सा लेते हैं.

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के अनुरोध पर शनिवार से तीन दिनों के लिए वाघा सीमा पर बीटिंग रीट्रीट सेरेमनी नहीं होगी. पाठक ने बताया, 'हम इस इलाके में पहले ही अलर्ट थे क्योंकि हमें कुछ दिनों पहले ही सूचना मिली थी कि इस इलाके को निशाना बनाया जा सकता है. अब जब धमाका हो गया है तो हमने इस सीमा पर अपनी इकाइयों को भी अलर्ट कर दिया है.' उन्होंने कहा कि उनके बल की तरफ से उन्हें बताया गया है कि वाघा सीमा से करीब 500 मीटर की दूरी पर धमाका हुआ.

पाठक ने कहा कि पाकिस्तानी रेंजर्स ने शुरुआत में बताया कि चाय की एक दुकान पर सिलेंडर में धमाका हुआ, लेकिन अब पता चला है कि यह एक फिदायिन हमला था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें