scorecardresearch
 

सिएरा लियोन में तेल टैंकर में विस्फोट, अब तक 98 लोगों की मौत

सिएरा लियोन में एक तेल टैंकर में विस्फोट हो गया. इस भयंकर घटना में कम से कम 92 लोग मारे गए और दर्जनों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. एक बस के टैंकर से टकराने के बाद शुक्रवार देर रात यह धमाका हुआ.

X
Symbolic Image Symbolic Image
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सिएरा लियोन में तेल टैंकर में विस्फोट
  • 92 लोगों की मौत, शवगृह के बाहर परिजनों की भीड़

सिएरा लियोन की राजधानी फ्रीटाउन के पास एक तेल टैंकर में विस्फोट हो गया. इस भयंकर घटना में कम से कम 92 लोग मारे गए और दर्जनों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. राजधानी फ्रीटाउन के पूर्व में उपनगर वेलिंगटन में एक बस के टैंकर से टकराने के बाद शुक्रवार देर रात यह धमाका हो गया.

इस घटना के बाद कनॉट अस्पताल के मुर्दाघर में शनिवार सुबह तक 98 शव लाए जाने की सूचना है. आईसीयू के एक स्टाफ सदस्य, फोडे मूसा के अनुसार, गंभीर रूप से जले हुए लगभग 30 पीड़ितों के बचने की उम्मीद नहीं है.

घायल अवस्था में अस्पताल लाए गए लोगों के कपड़े विस्फोट के बाद लगी आग में जल गए थे और वे स्ट्रेचर पर नग्न पड़े हुए थे. शवगृह और अस्पताल के बाहर अपनों की लाशों के लिए सैकड़ों लोगों की भीड़ जुटी हुई दिखी. हालांकि अभी यह नहीं कहा जा सकता कि कितने लोगों का इलाज अब भी चल रहा है. विस्फोट के बाद एसोसिएटेड प्रेस द्वारा जारी एक वीडियो में रात को आकाश में एक बड़ा आग का गोला दिखाई पड़ा. वहीं गंभीर रूप से झुलसे कुछ लोगों के बिलखने की आवाज चारों ओर गूंज रही थी. धमाके के बाद पीड़ितों के जले हुए शरीर मोर्चरी में गाड़ियों की इंतजार में बिखरे पड़े थे.

स्कॉटलैंड के दौरे पर राष्ट्रपति

संयुक्त राष्ट्र जलवायु वार्ता में भाग लेने के लिए शनिवार को स्कॉटलैंड पहुंचे देश के राष्ट्रपति जूलियस माडा बायो ने इसे "जीवन की भयानक हानि" बताते हुए खेद व्यक्त किया. उन्होंने ट्वीट किया, "उन परिवारों के साथ मेरी गहरी सहानुभूति है जिन्होंने अपनों को खो दिया है और जो इसके परिणामस्वरूप अपंग हो गए हैं."

उपराष्ट्रपति मोहम्मद जुल्देह जलोह ने रातभर दो अस्पतालों का दौरा किया और कहा कि सिएरा लियोन की राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी और अन्य आपातकाल के मद्देनजर "अथक प्रयास'' किए जा रहे हैं. उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर लिखा "हम सभी इस राष्ट्रीय त्रासदी से बहुत दुखी हैं, और यह वास्तव में हमारे देश के लिए एक कठिन समय है."

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें