scorecardresearch
 

पाकिस्तान के साथ वार्ता रद्द करने का मोदी को अफसोस?

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पाकिस्तान के साथ विदेश सचिव स्तर की वार्ता रद्द करने के अपने निर्णय पर अफसोस है. एक समाचारपत्र ने रविवार को यह जानकारी दी.

नरेंद्र मोदी नरेंद्र मोदी

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पाकिस्तान के साथ विदेश सचिव स्तर की वार्ता रद्द करने के अपने निर्णय पर अफसोस है. एक समाचारपत्र ने रविवार को यह जानकारी दी.

पाकिस्तानी अखबार डॉन ने लिखा, '25 अगस्त को रखी गई वार्ता रद्द करने के निर्णय की घरेलू और विदेश स्तर पर हो रही आलोचनाओं से हैरान मोदी को शायद अपने फैसले पर अफसोस है और वह शायद इस पर पुनर्विचार करें.'

डॉन ने अपने संपादकीय पृष्ठ में लिखा कि मोदी ने शनिवार को जापान के लिए रवाना होने से पहले कहा कि नई दिल्ली को इस्लामाबाद के साथ किसी भी मुद्दे पर बातचीत करने में कोई हिचकिचाहट नहीं है.

मोदी ने लेकिन यह भी कहा कि पाकिस्तान ने नई दिल्ली में मौजूद अपने उच्चायुक्त को कश्मीरी अलगाववादी नेताओं से मुलाकात करने का निर्देश देकर वार्ता का तमाशा बनाने की कोशिश की, जिस कारण इसे रद्द किया गया.

डॉन ने लिखा, 'यह एक कमजोर बहाना है.'
डॉन ने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का पक्ष दोहराते हुए लिखा कि मोदी का बयान इस बात स्वीकृति है कि वार्ता रद्द किए जाने का निर्णय गलत था, क्योंकि इस निर्णय ने द्विपक्षीय शांति वार्ता को फिर से बहाल करने के प्रयास को कुचल दिया.

डॉन ने अपने संपादकीय में लिखा, 'यह भविष्य ही बताएगा कि मोदी के इरादे क्या हैं. क्या वह विदेशों में अपने आलोचकों के बीच छवि निर्माण कर रहे हैं या उनके द्वारा कही गई बात असल में मायने रखती है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें