scorecardresearch
 

मैं यूरोप की कठपुतली नहीं, गर्व से भरी पाकिस्तान की बेटी हूं, बोलीं मलाला यूसुफजई

बच्चों के शिक्षा के अधिकारों के लिए संघर्षरत 16 साल की पाकिस्तानी लड़की मलाला यूसुफजई ने कहा है कि वह पश्चिमी देशों की कठपुतली नहीं है. मलाला ने कहा कि मैं पाकिस्तान की बेटी हूं और मुझे इसका फख्र है और तालिबानियों का यह दुष्प्रचार है कि वह दूसरे देशों की कठपुतली बन गई है

ओबामा से मुलाकात में मलाला ने पाकिस्तान पर ड्रोन हमले रोकने की अपील की ओबामा से मुलाकात में मलाला ने पाकिस्तान पर ड्रोन हमले रोकने की अपील की

बच्चों के शिक्षा के अधिकारों के लिए संघर्षरत 16 साल की पाकिस्तानी लड़की मलाला यूसुफजई ने कहा है कि वह पश्चिमी देशों की कठपुतली नहीं है. मलाला ने कहा कि मैं पाकिस्तान की बेटी हूं और मुझे इसका फख्र है और तालिबानियों का यह दुष्प्रचार है कि वह दूसरे देशों की कठपुतली बन गई है. मलाला पाकिस्तान के कबाइली इलाके की रहने वाली है और पिछले साल तालिबानियों ने उसके सिर पर गोली मार दी थी. उनके हिसाब से मलाला का कुसूर यह था कि वह लड़कियों के स्कूल की बंदी के फरमान का विरोध कर रही थी. इसके बाद से मलाला पहले इलाज और फिर पढ़ाई के सिलसिले में ब्रिटेन में रह रही है.

रविवार को बीबीसी के साथ एक इंटरव्यू के दौरान मलाला से सवाल पूछा गया था कि पाकिस्तान में कुछ लोग सोच रहे हैं कि वह पश्चिमी देशों के रंग में रंगी जा रही है. इस पर मलाला ने कहा कि मेरे पिता कहते हैं कि पढ़ाई में कुछ भी पूर्वी या पश्चिमी जैसा विभाजन नहीं होता. पढ़ाई पढ़ाई होती है और हर किसी का इस पर हक होता है. और मैं वही कर रही हूं यहां रहकर.

मलाला ने एक बार फिर दोहराया कि मुझे पाकिस्तान की आम अवाम का पूरा सपोर्ट हासिल है. उसने यह भी कहा कि मुल्क के हालात बदलने के लिए वह बड़ी होकर राजनीति में जाएगी.

पिछला एक हफ्ता मलाला के लिए सरगर्मियों से भरा रहा है. पहले तो तालिबानियों ने नए सिरे से धमकी दी कि मौका मिलते ही वह मलाला को फिर से गोली मारेंगे. उसके बाद मलाला की नोबेल पीस प्राइज की दावेदारी पर चर्चाएं रहीं. मलाला को यह पुरस्कार तो नहीं मिला, मगर गुरुवार को उन्हें यूरोपियन यूनियन का सखारोव ह्यूमन राइट्स प्राइज दिया गया. शुक्रवार को मलाला की वॉशिंगटन में अमेरिकी प्रेजिडेंट बराक ओबामा से मुलाकात हुई. यहां पर मलाला ने ओबामा को शिक्षा के क्षेत्र में उनकी पहल के लिए शुक्रिया अदा किया. साथ ही उनसे पाकिस्तान में ड्रोन हमले रोकने की भी गुजारिश की.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें