scorecardresearch
 

पाकिस्तान ने रिहा किए 20 भारतीय मछुआरे, वाघा बॉर्डर से होगी वापसी

पाकिस्तान की ओर से 20 भारतीय मछुआरों को जेल से रिहा करने का फैसला किया गया है. पाकिस्तान समुद्री सुरक्षा एजेंसी के मुताबिक पाकिस्तानी क्षेत्रीय सीमाओं का उल्लंघन करने वाले 20 भारतीय मछुआरों को जेल से रिहा कर दिया गया.

X
20 भारतीय मछुआरों को पाकिस्तान ने किया रिहा (प्रतीकात्मक तस्वीर-ANI) 20 भारतीय मछुआरों को पाकिस्तान ने किया रिहा (प्रतीकात्मक तस्वीर-ANI)

  • गलती से सीमा पार किए 20 मछुआरों को पाकिस्तान ने किया रिहा
  • वाघा बॉर्डर पर भारतीय अधिकारियों को सौंपे जाएंगे मछुआरे

पाकिस्तान की ओर से 20 भारतीय मछुआरों को जेल से रिहा करने का फैसला किया गया है. पाकिस्तान समुद्री सुरक्षा एजेंसी के मुताबिक पाकिस्तानी क्षेत्रीय सीमाओं का उल्लंघन करने वाले 20 भारतीय मछुआरों को जेल से रिहा कर दिया गया है. उन्हें लांधी जेल से रिहा किया गया है. उन्हें सोमवार को वाघा बॉर्डर पर भारतीय अधिकारियों को सौंपा जाएगा.

भारतीय मछुआरों को पाकिस्तान की मेरीटाइम सिक्योरिटी एजेंसी ने बीते साल गिरफ्तार किया था. मछुआरों ने गलती से भारतीय सीमा पार कर ली थी और पाकिस्तान में दाखिल हो गए थे. मछुआरों को लाहौर के मारिल जिला जेल में रखा गया था. भारतीय समय के मुताबिक शाम 3 बजे रिहा किया गया.

सूत्रों का कहना है कि मछुआरों को एक नॉन प्रॉफिट ऑर्गेनाजेशन ईधी फाउंडेशन को जेल अधिकारियों ने सुरक्षित पहुंचाने के लिए सौंपा है. मछुआरों को कराची कैंट स्टेश से लाहौर सोमवार को लाया जाएग और वाघा बॉर्डर के रास्ते से उन्हें वापस भेजा जाएगा. सूत्रों के मुताबिक सभी गिरफ्तार मछुआरे आंध्र प्रदेश के रहने वाले हैं.

मछुआरों को गुजरात तट के पास से गिरफ्तार किया गया था. ज्यादातर मछुआरे श्रीकाकुलम और विजियानगरम जिले के रहने वाले हैं. वे सभी समुद्री तट के भीतर मछली मारने गए थे. इससे पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायुक्त को जानकारी दी थी कि पाकिस्तान कुछ मछुआरों को रिहा करेगा.

पाकिस्तान में 217 भारतीय मछुआरे कैद

मलेर जिला जेल लांढी के अधीक्षक औरंगजेब खान ने बताया कि इन्हें मिलाकर इस वक्त 237 भारतीय मछुआरे इस जेल में कैद थे. पाकिस्तान की सरकार ने इनमें से 20 को सद्भावना के तहत रिहा करने का फैसला किया है. यह बीते एक साल से अधिक समय से जेल में थे. इनकी रिहाई के बाद अब पाकिस्तान की जेल में 217 भारतीय मछुआरे कैद में हैं.

औरंगजेब खान ने बताया कि इन बीस भारतीय मछुआरों की रिहाई रविवार दोपहर की गई. इन्हें जेल पुलिस की निगरानी में ईधी फाउंडेशन द्वारा कराची कैंट रेलवे स्टेशन पहुंचाया गया. यहां से इन्हें लाहौर रवाना किया गया. ईधी फाउंडेशन के प्रमुख फैसल ईधी ने इन्हें स्टेशन पर विदा किया. 6 जनवरी को लाहौर में ईधी फाउंडेशन की निगरानी में यह भारतीय मछुआरे वाघा सीमा तक जाएंगे जहां दोपहर बाद इन्हें भारतीय अधिकारियों को सौंप दिया जाएगा.

(IANS इनपुट के साथ)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें