scorecardresearch
 

जैसे अमेरिका गया अफगानिस्तान से, भारत जाएगा कश्मीर सेः हाफिज सईद

भारत की मोस्ट वॉन्टेड लिस्ट में शुमार पाकिस्तानी आतंकवादी हाफिज मोहम्मद सईद ने कहा है कि जैसे अमेरिका को अफगानिस्तान छोड़ना पड़ा, वैसे ही एक दिन भारत का भी कश्मीर से कब्जा खत्म हो जाएगा.

आतंकवादी हाफिज सईद आतंकवादी हाफिज सईद

भारत की मोस्ट वॉन्टेड लिस्ट में शुमार पाकिस्तानी आतंकवादी हाफिज मोहम्मद सईद ने कहा है कि जैसे अमेरिका को अफगानिस्तान छोड़ना पड़ा, वैसे ही एक दिन भारत का भी कश्मीर से कब्जा खत्म हो जाएगा.

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में एक मीडिया वर्कशॉप को संबोधित करते जमात उद दावा के मुखिया सईद ने कहा कि अमेरिका अफगानिस्तान को छोड़ना नहीं चाहता था. मगर उसे मजबूर किया गया. मेरे अल्लाह ने उसके प्लान को फेल कर दिया. ऐसे ही एक दिन भारत को भी कश्मीर छोड़ना पड़ेगा. सईद ने यह इल्जाम भी लगाया कि भारत और अमेरिका नहीं चाहते हैं कि पाक सरकार तालिबान से बात करे. उसने कहा कि ये दोनों मुल्क हमारी शांति के खिलाफ हैं.

गौरतलब है कि हाफिज सईद ने ही नब्बे के दशक में आतंकवादी संगठन लश्कर ए तैयबा का गठन किया था. यही आतंकवादी संगठन दिसंबर 2001 में भारतीय संसद पर हमले के लिए जिम्मेदार था. इसी संगठन ने मुंबई में हुए 26/11 के आतंकवादी हमले को अमली जामा पहनाया. लश्कर ए तैयबा आतंकवादी संगठन पाकिस्तान में प्रतिबंधित है. प्रतिबंध के बाद से इसने एक दूसरा मोर्चा जमात उद दावा के नाम से खोल लिया है, जो प्रकट तौर पर परोपकारी काम और धार्मिक प्रचार करता है. इसी के बैनर तले इन दिनों हाफिज पाकिस्तान में रैली, सभाएं और दूसरे काम कर रहा है. दिलचस्प बात यह है कि हाफिज खुलेआम भारत और अमेरिका विरोधी बयान दे रहा है क्योंकि पाकिस्तान की सरपरस्त अमेरिकी सरकार ने उस पर 1 करोड़ अमेरिकी डॉलर का ईनाम रखा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×