scorecardresearch
 

बिलावल भुट्टो का बड़बोलापन, 'भारत से लेकर रहेंगे पूरा कश्मीर'

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के मुख्य संरक्षक बिलावल भुट्टो जरदारी ने बेतुका बयान दिया है. उन्होंने भारत को चेतावनी देते हुए कहा है कि कश्मीर पाकिस्तान का हिस्सा है और वो इसे हासिल करके रहेंगे.

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के मुख्य संरक्षक बिलावल भुट्टो जरदारी ने बेतुका बयान दिया है. उन्होंने भारत को चेतावनी देते हुए कहा है कि कश्मीर पाकिस्तान का हिस्सा है और वो इसे हासिल करके रहेंगे. उन्होंने कहा कि वो कश्मीर का एक इंच भी भारत को नहीं देंगे.

पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी के आवास से पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बिलावल ने कहा, 'मैं पूरा कश्मीर वापस लूंगा. मैं इसका एक इंच भी भारत के लिए नहीं छोड़ूंगा क्योंकि कश्मीर सिर्फ पाकिस्तान का है. पाकिस्तान के बाकी प्रोविंस की तरह कश्मीर भी हमारा है.

15 सितंबर को ही बिलावल ने घोषणा की थी कि वह 2018 के आम चुनाव में अपनी मां की परंपरागत सीट एनए-207 से उम्मीदवार होंगे. खबरों के मुताबिक, पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के मुख्य संरक्षक, बिलावल ने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) और पाकिस्तान अवामी तहरीक (पीएटी) द्वारा इस्लामाबाद में आयोजित धरने की भी आलोचना की थी.

पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के पुत्र बिलावल ने इस धरने को पूर्वाग्रह का मामला बताया और विरोध प्रदर्शन को ओछा करार दिया. बिलावल ने कहा था कि अगर मीडिया इस आंदोलन को दिखाना बंद कर दे तो वे धरना बंद कर देंगे.

बिलावल ने सिंध प्रांत के विभाजन की बात को भी खारिज कर दी थी. उन्होंने कहा था कि सिंध प्रांत के बंटवारे का सवाल ही नहीं उठता और सिंध प्रांत की तुलना पंजाब से करना ठीक नहीं होगा. मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट पार्टी ने सिंध प्रांत के विभाजन की मांग की थी. जिस सीट से बिलावल ने चुनाव लड़ने की घोषणा की है, उसे पीपीपी का गढ़ माना जाता है. इसी क्षेत्र के अंदर पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो और जुल्फिकार अली भुट्टो का पैतृक घर आता है.

2013 के आम चुनाव में इस सीट से पीपीपी के फरयाल तापुर विजयी हुए थे. इसके पहले 2008 में वह इस सीट से निर्विरोध चुन लिए गए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें