scorecardresearch
 

चीन में भूकंप: मृतकों की संख्या 207 पहुंची, 11,500 से ज्यादा घायल

दक्षिणपश्चिमी चीन के सिछुआन प्रांत में आए सात तीव्रता के भूकंप में मरने वालों की संख्या 200 से ज्यादा हो गई है और इस प्राकृतिक आपदा में अभी तक 11,500 लोगों घायल हुए हैं. दूसरी ओर राहत एवं बचाव दल टनों मलबे के नीचे दबे लोगों को बचाने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य कर रहे हैं.

X

दक्षिणपश्चिमी चीन के सिछुआन प्रांत में आए सात तीव्रता के भूकंप में मरने वालों की संख्या 200 से ज्यादा हो गई है और इस प्राकृतिक आपदा में अभी तक 11,500 लोगों घायल हुए हैं. दूसरी ओर राहत एवं बचाव दल टनों मलबे के नीचे दबे लोगों को बचाने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य कर रहे हैं.

सिछुआन प्रांत के लुशान कस्बे में शनिवार को सात तीव्रता का भूकंप आया. इसके बाद कम से कम 1,300 झटके आए जिनमें से कुछ की तीव्रता 5.4 तक थी.

राहत एवं बचाव कर्मियों के सुदूर इलाकों में फैलने और मलबों को खंगालने के कारण मृतकों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है.

अधिकारियों के मुताबिक अभी तक 207 लोग मरे हैं या फिर लापता हैं. आपदा में करीब 11,500 लोग घायल हुए हैं. घायलों में 900 लोगों की हालत गंभीर बतायी जा रही है.

पांच वर्ष में दूसरी बार भूकंप की मार झेल रहे सिछुआन प्रांत के संबंध में बहस शुरू हो गई है कि सक्रिय भूकंप क्षेत्र में क्या घनी आबादी को बसने की अनुमति होनी चाहिए. सिछुआन तिब्बत के पठार की तराई में स्थित है और वहां अकसर भूकंप आते हैं. इस इलाके में यूरेशियन और इंडियन प्लेटों के लगातार तेजी से टकराने के कारण भूकंप आते रहते हैं.

वर्ष 2008 में इस इलाके में आए भूकंप में 90,000 से ज्यादा लोग मारे गए थे, लगभग पूरा प्रांत ही ध्वस्त हो गया था.

राष्ट्रपति शी चिनफिंग के नेतृत्व में बनी चीन की नयी सरकार के लिए कल आया भूकंप बड़ी चुनौती है. अपने पूर्ववर्ती वेन च्याबो के नक्शे कदम पर चलते हुए नए प्रधानमंत्री ली क्विंग भूकंप आने के पांच घंटे के भीतर मौके पर मौजूद थे.

वह खुद बचान एवं राहत कर्मियों को निर्देश दे रहे थे और भूकंप के 72 घंटों के भीतर मलबे में दबे लोगों में से ज्यादा से ज्यादा लोगों को जीवित बचाने की कोशिश में लगे रहे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें