scorecardresearch
 

पाकिस्तान के बचाव में आया चीन, बोला- आतंकवाद के खिलाफ है पाक

ने सोमवार को अफगानिस्तान और साउथ एशिया पॉलिसी को लेकर स्पष्ट किया था कि, "पाकिस्तान भी आतंकवाद की मार झेल रहा है, लेकिन फिर भी वो आतंकवादियों के लिए स्वर्ग भी बना हुआ है. पाक आतंकियों को अपने देश में पनाह देना बंद करे."चुनयिंग ने आगे कहा कि अमेरिका और पाकिस्तान आतंकवाद पर लगाम लगाने की दिशा में आपसी सहयोग से काम करें और एक दूसरे का सम्मान बरकरार रखते हुए ग्लोबल पीस बनाए रखे.

हुआ चुनयिंग हुआ चुनयिंग

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को चेतावनी दी थी कि वो आतंकियों को पनाह देना बंद करे. ट्रंप के इस बयान को आड़े हाथों लेते हुए चीन अब पाकिस्तान के बचाव में आ गया है. चीन के फॉरेन मिनिस्ट्री स्पोक्सपर्सन हुआ चुनयिंग ने बयान जारी करते हुए कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि यूएस अपनी पॉलिसी के अनुकूल इलाके में सिक्योरिटी और स्थिरता बनाए रखेगा. मेरे नजरिए में ट्रंप पाकिस्तान पर आतंकियों को पनाह देने के आरोप लगा रहे हैं, लेकिन उन्हें यह भी देखना चाहिए कि पाकिस्तान भी आतंकवाद से लड़ने और शांति बनाए रखने में सहयोग कर रहा है.

बता दें कि ट्रंप ने सोमवार को अफगानिस्तान और साउथ एशिया पॉलिसी को लेकर स्पष्ट किया था कि पाकिस्तान भी आतंकवाद की मार झेल रहा है, लेकिन फिर भी वो आतंकवादियों के लिए स्वर्ग भी बना हुआ है. पाक आतंकियों को अपने देश में पनाह देना बंद करे.

चुनयिंग ने आगे कहा कि अमेरिका और पाकिस्तान आतंकवाद पर लगाम लगाने की दिशा में आपसी सहयोग से काम करें और एक-दूसरे का सम्मान बरकरार रखते हुए ग्लोबल पीस बनाए रखे.

भारत और अमेरिका के रिश्तों पर भी कसा तंज  

भारत और अमेरिका के बेहतर होते रिश्तों पर भी चीनी स्पोक्सपर्सन बोलने से नहीं चुकी. उन्होंने कहा कि चीन इस बात से खुश है कि अमेरिका और भारत के रिश्ते विकास की दिशा में बढ़ रहे हैं, लेकिन दोनों देश यह जरुर ध्यान रखे कि उनका रिलेशनशिप किसी दूसरे देश को हानि ना पहुंचाए. हम उम्मीद करते हैं कि दोनों देश रिजनल पीस बनाते हुए विकास करेंगे.  

डोकलाम पर की भारत की आलोचना

न्यूक्लियर सप्लायर ग्रुप में भारत की मेंबरशिप और जैश- ए- मोहम्मद के मसूद अजहर की गिरफ्तारी के सवाल से किनारा करते हुए हुआ चुनयिंग ने कहा कि भारत और अमेरिका से हमारे द्विपक्षीय संबंध किसी तीसरी पार्टी को टार्गेट करने के लिए नहीं है. हुआ ने डोकलाम विवाद पर भारत की आलोचना भी की. उन्होंने कहा कि डोकलाम पर भारत के कदम ने चीन के लोगों के मन में नेगेटिव इम्पैक्ट बनाया है. भारत को अपने शब्दों और कर्मों में तालमेल रखना चाहिए.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें