scorecardresearch
 

चीन की ट्रंप- किम को सलाह- एक दूसरे को उकसाना बंद करें, युद्ध हुआ तो कोई नहीं जीतेगा

कोरियाई प्रायद्वीप पर तनाव के बीच चीन ने अमेरिका और उत्तर कोरिया से संयम रखने और एक दूसरे को उकसाने से बचने को कहा. बीजिंग ने कहा कि वह दोनों देशों के बीच जुबानी जंग को लेकर बहुत चिंतित है. चीन ने चेतावनी दी है कि अगर कोरियाई प्रायद्वीप में युद्ध भड़का तो कोई भी इसे जीत नहीं पाएगा.

X
प्रतीकात्मक प्रतीकात्मक

कोरियाई प्रायद्वीप पर तनाव के बीच चीन ने अमेरिका और उत्तर कोरिया से संयम रखने और एक दूसरे को उकसाने से बचने को कहा. बीजिंग ने कहा कि वह दोनों देशों के बीच जुबानी जंग को लेकर बहुत चिंतित है. चीन ने चेतावनी दी है कि अगर कोरियाई प्रायद्वीप में युद्ध भड़का तो कोई भी इसे जीत नहीं पाएगा.

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने कहा कि बीजिंग लगातार कोरियाई प्रायद्वीप में युद्ध की स्थिति और तनाव का विरोध कर रहा है. उन्होंने कहा कि चीन दोनों पक्षों के बीच चल रहे युद्ध की धमकी वाली बयानबाजी को भी अस्वीकार करता है.

लू कांग ने मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि कोरियाई प्रायद्वीप में हालात तनावपूर्ण होने के चलते चीन बहुत चिंतित है. उन्होंने कहा, 'हमें लगता है कि किसी भी पक्ष को आग में घी डालने से बचना चाहिए. दोनों पक्षों के उकसाऊ बयान बंद करने पर एक रास्ता निकाला जा सकता है.'

बता दें कि उत्तर कोरिया ने इस महीने की शुरुआत में अपना सबसे बड़ा परमाणु परीक्षण किया था, जिसके बाद से तनाव नाटकीय रूप से बढ़ गया है. उत्तर कोरिया की सरकार संचालित केसीएनए समाचार एजेंसी ने इसे हाइड्रोजन बम करार दिया था.

दरअसल, उत्तर कोरिया अमेरिका पहुंचने में सक्षम और परमाणु आयुध ले जाने में सक्षम मिसाइल विकसित करने के अपने लक्ष्य की ओर बढ़ रहा है. इसे देखते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने एक दूसरे को लगातार धमकियां दी हैं और व्यक्तिगत हमले किए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें