scorecardresearch
 

रूस पर क्या बोले पीएम मोदी कि दुनिया भर में होने लगी तारीफ

यूक्रेन और रूस के युद्ध के बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से कहा कि यह युद्ध का समय नहीं है. रूस को पीएम मोदी के इस संदेश के बाद दुनियाभर के कई देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ में कसीदे पढ़ रहे हैं.

X
फोटो- पीएम नरेंद्र मोदी फोटो- पीएम नरेंद्र मोदी

यूक्रेन और रूस का युद्ध थमने का नाम नहीं ले रहा है. अमेरिका समेत कई पश्चिमी देशों ने रूस पर कई तरह के कड़े प्रतिबंध भी लगा दिए हैं, लेकिन रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन जंग रोकने का नाम नहीं ले रहे हैं. इसी बीच रूस के दोस्त कहे जाने वाले भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुतिन से कुछ ऐसा कहा है, जिसकी दुनिया भर के कई देश तारीफ कर रहे हैं. 

दरअसल, उज्बेकिस्तान में एससीओ मीटिंग के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की द्विपक्षीय मुलाकात भी हुई थी. इस दौरान दोनों देशों ने अपने संबंधों को मजबूत करने पर बात की. इस दौरान यूक्रेन से युद्ध को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुतिन से कहा कि अब युद्ध का दौर नहीं है, सभी शांति चाहते हैं. 

पीएम मोदी की इस बात पर रूस के राष्ट्रपति ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी और कहा कि वे चाहते हैं कि युद्ध जल्द समाप्त हो जाए. एससीओ मीटिंग में पीएम मोदी की रूस को इस सलाह की अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस जैसे बड़े देशों ने यूएन जनरल असेंबली में जमकर तारीफ की है. 

क्या बोले फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों
यूक्रेन से युद्ध के बीच पीएम मोदी के रूसी राष्ट्रपति को संदेश की फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने जमकर तारीफ की. यूनाइटेड नेशन जनरल असेंबली (UNGA) में फ्रांस के राष्ट्रपति ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने यह बात बिल्कुल सही कही कि यह युद्ध का समय नहीं है. ना पश्चिम से बदला लेने या ईस्ट के खिलाफ वेस्ट का विरोध करने का है. बल्कि यह समय हमारे जैसे संप्रभु देशों को मिल रही चुनौतियों का सामना करने का है.

अमेरिका की ओर से क्या कहा गया
पीएम मोदी के रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को शांति संदेश देने पर यूएस नेशनल सिक्योरिटी एडवाइजर जेक सुलिवन ने कहा कि समरकंद में पीएम नरेंद्र मोदी ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को जो कहा, वह बिल्कुल ठीक था. अमेरिका पीएम मोदी के संदेश का स्वागत करता है. 

पीएम मोदी के संदेश पर क्या बोला ब्रिटेन 
पीएम मोदी के रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को यूक्रेन युद्ध पर संदेश को लेकर ब्रिटेन ने भी जमकर तारीफ की. यूके विदेश सचिव जेम्स क्लेवरली ने कहा कि वैश्विक मंच पर पीएम नरेंद्र मोदी की एक ताकतवर और प्रभावशाली आवाज है और रूस वैश्विक अखाड़े में भारत के स्थान का सम्मान करता है. उन्होंने आगे कहा कि हम आशा करते हैं कि राष्ट्रपति पुतिन इन आवाजों को सुनें और यूक्रेन से विवाद में शांति स्थापित करें. 

पुतिन से क्या बोले थे पीएम नरेंद्र मोदी
उज्बेकिस्तान के समरकंद शहर में आयोजित हुई एससीओ की मीटिंग के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ द्विपक्षीय मुलाकात की थी. इस दौरान यूक्रेन युद्ध को लेकर पीएम मोदी ने रूसी राष्ट्रपति से कहा था कि यह युद्ध का समय नहीं है.

पीएम मोदी ने पुतिन से कहा, मैंने आपसे इस बारे में फोन पर भी बात की थी, आज हम इस पर बात करना चाहेंगे कि शांति के रास्ते पर आगे कैसे बढ़ा जाए.  

वहीं व्लादिमीर पुतिन ने पीएम मोदी से इस बारे में कहा कि यूक्रेन संघर्ष में मैं आपकी स्थिति को जानता हूं. पुतिन ने कहा कि हम चाहते हैं कि यह संकट जितना जल्दी हो, खत्म हो जाए. पुतिन ने आगे कहा कि यूक्रेन इस संवाद प्रक्रिया में शामिल नहीं होना चाहता है. यूक्रेन कहता है कि वह अपने लक्ष्यों को युद्ध के सहारे हासिल करना चाहता है.

6 महीने से रूस और यूक्रेन का युद्ध जारी
रूस और यूक्रेन का पिछले 6 महीनों से युद्ध लगातार जारी है. यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की के दावे के अनुसार, इस जंग में रूस के 55 हजार से ज्यादा सैनिक मारे जा चुके हैं, वहीं यूक्रेन को भी काफी नुकसान हुआ है. हजारों यूक्रेन के जवान जख्मी और अपंग हो गए हैं.

दूसरी ओर, व्लादिमीर पुतिन भी जंग लड़ने के लिए पीछे नहीं हट रहे हैं और यूक्रेन को लगातार धमकी दे रहे हैं. हाल ही में उन्होंने तीन लाख सैनिकों के मोबिलाइजेशन का ऐलान किया है, जिससे दुनिया की नजर एक बार उनके अगले एक्शन पर टिक गई है. पुतिन के नए ऐलान से साफ दिख रहा है कि अभी दोनों देशों में युद्ध और लंबा खिंच सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें