scorecardresearch
 

Ukraine crisis: बाइडेन ने पुतिन को दी हमले की 'गंभीर कीमत' भुगतने की चेतावनी, रूस ने उड़ाया मजाक

Ukraine crisis: यूक्रेन संकट गहरा रहा है. इसे लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से बात की. वहीं व्हाइट हाउस ने बताया कि बाइडेन ने पुतिन से कहा कि अगर यूक्रेन पर हमला होता है, तो संयुक्त राज्य अमेरिका और उसके सहयोगी निर्णायक रूप से रूस को इसका जवाब देंगे.

X
 जो बाइडेन और व्लादिमीर पुतिन जो बाइडेन और व्लादिमीर पुतिन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हमले की गतिविधियां बढ़ा रहा रूस
  • अमेरिकी राष्ट्रपति ने की पुतिन से बात

Ukraine crisis: यूक्रेन को लेकर विवाद अब गहराता ही जा रही है. दरअसल इस मामले में दो महाशक्तियों के आपस में टकराने के आसार बनते जा रहे हैं. बता दें कि यूक्रेन में रूस हमले की गतिविधियां लगातार बढ़ाता जा रहा है. ऐसे में इस संकट को टालने के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने और रूस के राष्टपति व्लादिमीर पुतिन से बात की. आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक बाइडेन ने व्लादिमीर पुतिन से कहा कि यूक्रेन पर हमला करने से 'व्यापक मानवीय पीड़ा' होगी. इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं.

व्हाइट हाउस ने बताया कि बातचीत के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन ने पुतिन से यह भी कहा कि अगर यूक्रेन पर हमला होता है तो संयुक्त राज्य अमेरिका और उसके सहयोगी निर्णायक रूप से रूस को इसका जवाब देंगे. इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे.

कई हफ्तों से चेतावनी दे रहा बाइडेन प्रशासन

दरअसल, बाइडेन प्रशासन कई हफ्तों से चेतावनी दे रहा है कि रूस जल्द ही यूक्रेन पर आक्रमण कर सकता है. लेकिन अमेरिकी अधिकारियों ने पहले कहा था कि क्रेमलिन (रूस) संभवतः अभी  बीजिंग में शीतकालीन ओलंपिक के समाप्त होने तक इंतजार करेगा, ताकि चीन की ओर से विरोध न हो. वहीं नाम न छापने की शर्त पर कॉल पर चर्चा करने वाले अधिकारी ने कहा कि यह स्पष्ट नहीं है कि पुतिन ने सैन्य कार्रवाई के साथ आगे बढ़ने का अंतिम निर्णय लिया है अथवा नहीं.

रूस ने उड़ाया अमेरिका का उपहास

रूस ने अमेरिका के इस कदम का उपहास उड़ाया है. दोनों राष्ट्राध्यक्षों की बातचीत के बाद रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया ज़खारोवा ने कहा कि व्हाइट हाउस का उन्माद पहले से कहीं अधिक सांकेतिक है. उकसावा, गलत सूचना और धमकियां अमेरिका का समस्याओं को हल करने का पसंदीदा तरीका है. ज़खारोवा ने कहा कि रूस ने यूक्रेन की ओर से संभावित सैन्य कार्रवाइयों के बारे में हमने अपने दूतावास में कर्मचारियों को आश्वस्त किया है. 

रूस ने सैनिकों को अभ्यास के लिए बेलारूस भेजा

बता दें कि रूस ने यूक्रेन सीमा के पास 1 लाख से अधिक सैनिकों को तैनात कर दिया है. साथ ही पड़ोसी बेलारूस में अभ्यास करने के लिए सैनिकों को भेजा है. लेकिन इस बात से इनकार किया है कि वह यूक्रेन के खिलाफ आक्रामक करेगा. 
 

ये भी पढ़ें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें