scorecardresearch
 

PAK सेना अड़ी, नवाज सरकार के लिए गले की हड्डी बनी जाधव की फांसी

कुलभूषण जाधव की फांसी को लेकर पाक सेना और नवाज सरकार आमने-सामने आ गई लगती हैं. जाधव की फांसी पर अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ने स्टे लगा दिया है. पाक में सेना अब नवाज सरकार पर जाधव की फांसी के मामले में न झुकने का दबाव बना रही है.

X
कुलभूषण जाधव कुलभूषण जाधव

कुलभूषण जाधव की फांसी को लेकर पाक सेना और नवाज सरकार आमने-सामने आ गई लगती हैं. जाधव की फांसी पर अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ने स्टे लगा दिया है. पाक में सेना अब नवाज सरकार पर जाधव की फांसी के मामले में न झुकने का दबाव बना रही है. ऐसे में देखना होगा कि पाक सरकार का इस मामले में अगला कदम क्या होगा. उधर भारत ने साफ कर दिया है कि पाकिस्तान में जाधव कहां हैं और किन हालात में हैं इसके बारे में उसे कोई जानकारी उपलब्ध नहीं कराई गई है.

दरअसल, भारत ने इस मसले पर 16 बार जाधव के काउंसलर एक्सेस की मांग की थी लेकिन हर बार उसे निराशा ही मिली. जिसके बाद भारत ने पाकिस्तानी सैन्य अदालत के इस फैसले के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय अदालत में अपील की. भारत की अपील पर कोर्ट ने जाधव की फांसी पर स्टे लगा दिया है. अब इस मामले में 15 मई को सुनवाई होगी.

जाधव की फांसी रुकने से भारत में एक ओर खुशी की लहर है तो वहीं पाकिस्तान का माहौल गर्म हो चुका है. एक बार फिर पाकिस्तान की सेना और सरकार आमने-सामने आ गई है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तानी सेना नवाज सरकार पर दबाव बना रही है कि कुलभूषण के मामले पर झुकने की जरूरत नहीं है.

पाकिस्तानी सेना ने कहा कि भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की मौत की सजा को लेकर अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत (आईसीजे) के किसी भी सवाल का उचित स्तर पर जवाब दिया जाएगा. पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने जाधव को जासूसी के आरोप में मौत की सजा सुनाई है. सेना के प्रवक्ता जनरल आसिफ गफूर ने मीडिया से कहा कि जाधव को कानून की उचित प्रक्रिया के बाद सैन्य अदालत ने मौत की सजा सुनाई है. उन्होंने कहा, अगर आईसीजे जाधव के बारे में पाकिस्तान से कोई आग्रह करता है तो पाकिस्तान सरकार उचित स्तर पर इसका जवाब देगी. सेना की ओर से यह बयान सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा की प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से मुलाकात के बाद आया है.

इससे पहले प्रधानमंत्री शरीफ के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज ने कहा कि पाकिस्तान भारतीय नागरिक जाधव की मौत की सजा पर रोक लगाने के संदर्भ में आईसीजे के अधिकार क्षेत्र का विश्लेषण कर रहा है. अजीज ने कहा कि पाकिस्तान अगले कुछ दिनों में बयान जारी करेगा. अजीज ने कहा, हम भारतीय याचिका और इस मामले में आईसीजे के अधिकार क्षेत्र का विश्लेषण कर रहे हैं. पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा मुहम्मद आसिफ ने आरोप लगाया कि भारत अपने नागरिक कुलभूषण जाधव को सुनाई गई मौत की सजा का इस्तेमाल देश में अपने राज्य प्रायोजित आतंकवाद से ध्यान हटाने के लिए कर रहा है.

आसिफ ने ट्वीट कर कहा, आईसीजे में भारत की अपील पाकिस्तान में उसके राज्य प्रायोजित आंतकवाद से ध्यान हटाने की कोशिश है. कुलभूषण को राष्ट्रीय सुरक्षा के खिलाफ अपराधों में दोषी ठहराया गया. भारत ने गत महीने पाकिस्तान की सैन्य अदालत से जाधव को दी गई फांसी की सजा के खिलाफ आईसीजे का रूख किया था.

इस बीच पाकिस्तान में कैद जाधव से पूछताछ के लिए ईरान ने भी इजाजत मांगी है. ईरानी राजनयिक मोहम्मद रफी ने क्वेटा में संवाददाता सम्मेलन के दौरान यह जानकारी दी. ईरानी राजनयिक रफी से जब पूछा गया कि उसके विदेश मंत्री जावेद जरीफ ने अपनी हालिया पाकिस्तान यात्रा के दौरान क्या पाकिस्तानी समकक्षों के साथ जाधव का मामला उठाया था तो रफी ने कहा कि उस दौरान यह मामला नहीं उठाया गया था. हालांकि इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ईरानी सरकार ने जाधव से पूछताछ करने के लिए पाकिस्तान से इजाजत मांगी है. यहां उन्होंने यह भी साफ किया कि इस मामले में बात आगे नहीं बढ़ पाई. मतलब पाकिस्तान ने उन्हें भी मना कर दिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें