scorecardresearch
 

ओबामा ने बदला उत्तरी अमेरिका के सबसे ऊंचे पर्वत का नाम

अलास्का में अमेरिका के मूल निवासियों की पुरानी मांग पूरी करते हुए राष्ट्रपति बराक ओबामा ने उत्तरी अमेरिका में स्थित सबसे ऊंचे पर्वत का नाम माउंट मैकिनले से बदलकर डेनाली रखने का फैसला किया है.

माउंट मैकिनले को अब डेनाली के नाम से जाना जाएगा माउंट मैकिनले को अब डेनाली के नाम से जाना जाएगा

अलास्का में अमेरिका के मूल निवासियों की पुरानी मांग पूरी करते हुए राष्ट्रपति बराक ओबामा ने उत्तरी अमेरिका में स्थित सबसे ऊंचे पर्वत का नाम माउंट मैकिनले से बदलकर डेनाली रखने का फैसला किया है.

ओबामा के दौरे से पहले हुए फैसला
व्हाइट हाउस ने ओबामा के अलास्का दौरे की पूर्व संध्या पर कहा कि राष्ट्रपति ने माउंट मैकिनले का नाम बदल कर डेनाली रखने का फैसला किया है. ओबामा अलास्का दौरे के समय इस निर्णय के संबंध में औपचारिक घोषणा करेंगे.

ऐसे नाम पड़ा था माउंट मैकिनले
1896 में मध्य अलास्का के पर्वतों में खनिजों की खोज करने वाले एक व्यक्ति को सूचना मिली कि अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए विलियम मैकिनले को उम्मीदवार नामित किया गया है. उनके समर्थन में उस व्यक्ति ने अलास्का पर्वतीय श्रृंखला की सबसे उंची चोटी का नाम माउंट मैकिनले रख दिया. इस तरह इस चोटी का नाम माउंट मैकिनले पड़ गया.

अमेरिका के 25वें राष्ट्रपति बने थे मैकिनले
मैकिनले अमेरिका के 25वें राष्ट्रपति बने लेकिन राष्ट्रपति के तौर पर उनके दूसरे कार्यकाल के मात्र छह महीने बाद उनकी हत्या हो गई थी. व्हाइट हाउस ने कहा, लेकिन उन्होंने कभी अलास्का में कदम नहीं रखा और उत्तरी अमेरिका में सबसे ऊंची और समुद्र के तल से करीब 20,000 फुट उंचाई पर स्थित यह चोटी सदियों ने डेनाली नाम से जानी जाती है. उसने कहा, 1975 में अलास्का राज्य द्वारा शुरू की गई प्रक्रिया को अंतिम रूप देते हुए राष्ट्रपति ओबामा घोषणा कर रहे हैं कि गृह मंत्री सैली जेवेल ने अपने अधिकार का प्रयोग करते हुए पर्वत का नाम डेनाली रख दिया है.

पुराना नाम है डेनाली
सैली ने कहा, अलास्का 1975 से आधिकारिक रूप से इस नाम का इस्तेमाल करता आया है लेकिन और भी अहम बात यह है कि इसे पीढि़यों से डेनाली के नाम से ही जाना जाता है.

इनपुट: भाषा

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें