scorecardresearch
 

अमेरिकी जंगी विमानों ने इराकी जिहादियों पर किया हमला

अमेरिका ने इराक में इस्लामी उग्रवादियों के नियंत्रण वाले क्षेत्रों में हवाई हमले शुरू कर दिए हैं. उसने उग्रवादियों को एरबिल की ओर आगे बढ़ने से रोकने की कोशिश करते हुए लेजर निर्देशित बम उसके तोपों पर बरसाए.

X

अमेरिका ने इराक में इस्लामी उग्रवादियों के नियंत्रण वाले क्षेत्रों में हवाई हमले शुरू कर दिए हैं. उसने उग्रवादियों को एरबिल की ओर आगे बढ़ने से रोकने की कोशिश करते हुए लेजर निर्देशित बम उसके तोपों पर बरसाए.

एरबिल में ही अमेरिकी राजनयिक ठहरे हैं. पेंटागन के प्रेस सचिव रीयर एडमिरल जॉन किरबी ने कहा, 'दो एफ.ए-18 विमानों ने एरबिल के समीप तोपों पर लेजर निर्देशित बम गिराए. आईएसआईएल एरबिल की रक्षा में जुटे कुर्दिश बल पर गोलाबारी के लिए इस तोपखाने का इस्तेमाल कर रहा है. एरबिल में ही अमेरिकी कर्मी हैं.

उन्होंने कहा, ‘अमेरिकी मध्य कमान कमांडर ने हमला करने यह फैसला किया और इस फैसले पर कमांडर इन चीफ ने मुहर लगाई. राष्ट्रपति स्पष्ट कर चुके हैं कि अगर आईएसआईएल हमारे कर्मियों एवं सुविधाओं पर खतरा पैदा करेगा, तो अमेरिकी सेना उसके खिलाफ सीधी कार्रवाई जारी रखेगी. राष्ट्रपति बराक ओबामा ने गुरुवार रात घोषणा की थी कि उन्होंने आईएसआईएल के विरूद्ध लक्ष्यसाध्य सैन्य हमले का आदेश दिया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें