scorecardresearch
 

नवाज शरीफ के इस्तीफे के बाद उनके भाई शहबाज होंगे अगले PM

शुक्रवार को पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने पनामा लीक केस में संयुक्त जांच आयोग की रिपोर्ट के आधार पर नवाज शरीफ को दोषी करार दिया. साथ ही 5 जजों की बेंच ने सर्वसम्मति से शरीफ के खिलाफ फैसला देते हुए उनको अयोग्य ठहरा दिया, जिसके बाद उनको प्रधानमंत्री की कुर्सी छोड़नी पड़ी.

शहबाज शरीफ और नवाज शरीफ शहबाज शरीफ और नवाज शरीफ

पनामा पेपर्स मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद नवाज शरीफ की कुर्सी चली गई है. नवाज शरीफ के पाकिस्तानी प्रधानमंत्री पद से हटने के बाद अब उनके छोटे भाई शहबाज शरीफ देश के अगले पीएम होंगे. नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) की उच्च स्तरीय बैठक में शहबाज को पीएम बनाए जाने का निर्णय लिया गया. पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने इसकी घोषणा की. हालांकि अभी शहबाज पाकिस्तानी संसद के निचले सदन नेशनल एसेंबली के सदस्य नहीं हैं, जिसके चलते वह फौरन प्रधानमंत्री नहीं बन सकते.

ऐसे में 45 दिन तक किसी दूसरे को अंतरिम प्रधानमंत्री बनाया जाएगा. इसके लिए शनिवार को इस्लामाबाद में पार्टी की बैठक होगी. इस अंतरिम प्रधानमंत्री के कामकाज को बाद में शहबाज कुर्सी संभालते ही मंजूरी दे देंगे. हालांकि अभी तक इस पद के लिए किसी की आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है, लेकिन माना जा रहा है कि शहबाज के पद ग्रहण करने तक पाकिस्तानी रक्षामंत्री ख्वाजा आसिफ को अंतरिम प्रधानमंत्री बनाया जा सकता है. इस ऐलान से पहले पंजाब प्रांत के मौजूदा मुख्यमंत्री शहबाज पीएम पद की रेस सबसे आगे बताए जा रहे थे. इससे पहले शहबाज के अलावा रक्षामंत्री ख्वाजा आसिफ, संघीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक संसाधन मंत्री शाहिद खाकान अब्बासी और नेशनल एसेंबली के स्पीकर अयाज सादिक को पीएम बनाए जाने की चर्चा थी.

वहीं, शहबाज के बाद उनके बेटे हमाज शहबाज शरीफ को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाया जाएगा. शुक्रवार को पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने पनामा लीक केस में संयुक्त जांच आयोग की रिपोर्ट के आधार पर नवाज शरीफ को दोषी करार दिया. साथ ही 5 जजों की बेंच ने सर्वसम्मति से शरीफ के खिलाफ फैसला देते हुए उनको अयोग्य ठहरा दिया, जिसके बाद उनको प्रधानमंत्री की कुर्सी छोड़नी पड़ी. पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट के फैसले के पहले से ही शहबाज की ताजपोशी की बात कही जा रही थी. हालांकि शहबाज पाकिस्तानी संसद के निचले सदन नेशनल एसेंबली के सदस्य नहीं हैं, जिसके चलते वह फौरन प्रधानमंत्री नहीं बन सकते.

 PMLN stands united, more resolute & unfazed. That's also unprecedented. Alhamdolillah! pic.twitter.com/qwagGuDwzJ

 इसके लिए उनको चुनाव लड़ना होगा. बताया जा रहा है कि शहबाज के उपचुनाव में चुने जाने तक रक्षामंत्री ख्वाजा आसिफ अंतरिम प्रधानमंत्री के तौर पर कार्यभार संभालने सकते हैं. नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) भी इससे सहमत होती नजर आ रही है. वहीं, पीएम पद से नवाज शरीफ के इस्तीफे के बाद उनकी बेटी व राजनीतिक उत्तराधिकारी मानी रहीं मरियम नवाज ने ट्वीट किया, 'आज का दिन 2018 में नवाज शरीफ की जीत की राह बनाएगा. इंशा अल्लाह. रोक सकते हो, तो रोक लो!' इस ट्वीट के साथ उन्होंने अपनी पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) में एकजुटता का दावा करते हुए कुछ तस्वीरें भी साझा की.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें