scorecardresearch
 

तालिबान राज में काबुल एयरपोर्ट पहुंची पहली इंटरनेशनल फ्लाइट, इस्लामाबाद से आई

पाकिस्तान के इस्लामाबाद से एक विमान अफगानिस्तान के काबुल पहुंचा है. तालिबान का राज स्थापित होने के बाद ये पहली अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट है, जो काबुल पहुंची है.

X
पाकिस्तान से विमान पहुंचा काबुल पाकिस्तान से विमान पहुंचा काबुल
स्टोरी हाइलाइट्स
  • काबुल पहुंची पहली इंटरनेशनल फ्लाइट
  • तालिबान राज में पहली फ्लाइट
  • पाकिस्तान से अफगानिस्तान की उड़ान

अफगानिस्तान में तालिबान (Taliban) का राज आने के बाद से ही अंतरराष्ट्रीय विमानों का संचालन पूरी तरह बंद था. लेकिन सोमवार को पाकिस्तान से एक विमान काबुल के एयरपोर्ट पर लैंड हुआ, जो तालिबान राज में आई पहली इंटरनेशनल फ्लाइट थी. 

एजेंसी के मुताबिक, पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) का विमान सोमवार को काबुल एयरपोर्ट पर लैंड किया. हालांकि इसमें सिर्फ 10 ही लोग थे, जिनमें स्टाफ भी शामिल है. इस विमान ने इस्लामाबाद से काबुल के लिए उड़ान भरी. पाकिस्तान की फ्लाइट से पहले कतर से एक डेलिगेशन भी काबुल पहुंच चुका है.

PIA की ओर से बयान दिया गया है कि वह जल्द से जल्द अफगानिस्तान (Afghanistan) से जुड़ी सभी फ्लाइट शुरू करना चाहते हैं, हालांकि अभी ये कहना काफी जल्दबाजी होगी कि दोनों देशों की राजधानी के बीच सर्विस कब से रेगुलर हो पाएगी. 


अमेरिकी सेना खराब करके गई थी एयरपोर्ट

30 अगस्त को जब अमेरिकी सेना ने काबुल छोड़ा था, तब से ही एयरपोर्ट का संचालन बंद है. तालिबान का दावा था कि अमेरिकी सैनिकों द्वारा एयरपोर्ट को खराब कर दिया गया था, जिसे रिपेयर करवाया जा रहा है. 

कतर और तुर्की की मदद से तालिबान इस एयरपोर्ट को ठीक कर रहा है. हालांकि, कुछ दिन पहले ही कतर की एक फ्लाइट ने काबुल एयरपोर्ट से उड़ान भरी थी, जो दोहा गया था. इसमें 200 अंतरराष्ट्रीय नागरिक सवार थे. 

स्थानीय उड़ानें हो चुकी हैं शुरू

अंतरराष्ट्रीय उड़ानों से इतर अफगानिस्तान के अंदर डोमेस्टिक उड़ानें शुरू हो गई हैं, 3 सितंबर से ये सर्विस चालू है. तालिबान ने जब अफगानिस्तान पर कब्जा किया था, तब कई देशों ने डर के चलते अफगानिस्तान के एयरस्पेस का इस्तेमाल भी बंद किया था. 

हालांकि, अब जब तालिबान अपनी सरकार बना चुका है और वह तमाम देशों से बात कर स्थिति को बहाल करना चाहता है. तब इस तरह की उम्मीद जताई जा रही है कि काबुल से जल्द ही उड़ानों का सिलसिला शुरू हो जाएगा, ताकि विदेशी लोग बाहर आ सकें.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें