scorecardresearch
 

श्रीलंका में अभी भी नहीं सुधरे हालात, भारत ने यात्रा न करने की दी सलाह, एडवाइजरी जारी

श्रीलंका के अधिकारियों ने कहा कि करीब 70 संदिग्ध आत्मघाती हमलवारों की तलाश की जा रही है. इस बीच भारत ने अपने नागरिकों को एडवाइजरी जारी कर आगाह किया है कि अगर जरूरी न हो तो वे श्रीलंका की यात्रा न करें. श्रीलंका में 21 अप्रैल को हुए आतंकी हमले के बाद 350 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं.

राजधानी कोलंबो में एक होटल के सामने तैनात सुरक्षाकर्मी (फोटो-रॉयटर्स) राजधानी कोलंबो में एक होटल के सामने तैनात सुरक्षाकर्मी (फोटो-रॉयटर्स)

पड़ोसी देश श्रीलंका में हालात नहीं सुधर रहे हैं. श्रीलंका के कल्मुनाई शहर में सेना और एक संदिग्ध आतंकियों के बीच हुई भीषण गोलीबारी के बाद 15 लोग मारे गए हैं. श्रीलंका के अधिकारियों ने कहा कि करीब 70 संदिग्ध आत्मघाती हमलावरों की तलाश की जा रही है. इस बीच भारत ने अपने नागरिकों को एडवाइजरी जारी कर आगाह किया है कि अगर जरूरी न हो तो वे श्रीलंका की यात्रा न करें. श्रीलंका में 21 अप्रैल को हुए आतंकी हमले में तकरीबन 300 लोग मारे जा चुके हैं.

शनिवार की ताजा घटना ने साफ संकेत दिया है कि श्रीलंका से आतंकियों का खात्मा अब तक नहीं हुआ है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ को श्रीलंका के एक सैन्य अधिकारी ने बताया कि सेना ने जब एक इस्लामिक आतंकवादी संगठन से जुड़े कुछ आतंकियों के घर पर छापेमारी की तो आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी. कुछ आत्मघाती हमलावारों ने बाद में खुद को घर के अंदर ही उड़ा लिया. श्रीलंका की सेना ने इस हमले का कड़ाई से जवाब दिया और दोनों ओर से भीषण गोलाबारी हुई. रिपोर्ट के मुताबिक घटना में तीन महिला, छह बच्चे और तीन पुरुष का शव घर से बरामद किया गया. तीन और संदिग्ध आत्मघाती हमलावरों के शव को घर से बाहर बरामद किया गया.

सेना आसपास के क्षेत्रों में भी आतंकवादियों के छिपे होने की आशंका को देखते हुए तलाशी अभियान चला रही है. कल्मुनाई और आसपास के क्षेत्रों में शुक्रवार की रात से लगा कर्फ्यू अब तक लागू है. हालात को देखते हुए भारत ने अपने नागरिकों को श्रीलंका न जाने की सलाह दी है. भारत सरकार की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक अगर श्रीलंका जाना जरूरी ही तो ऐसे लोगों को भारतीय उच्चायोग की मदद लेनी चाहिए. कोलंबो में स्थित भारत के उच्चायोग के वेबसाइट पर भारत सरकार ने श्रीलंका जाने वाले लोगों के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है.

इधर अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने भी श्रीलंका में हुए आतंकवादी हमलों के बाद श्रीलंका के लिए यात्रा चेतावनी का स्तर बढ़ा दिया है और अपने नागरिकों से वहां की यात्रा पर पुनर्विचार करने को कहा है. अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को जारी यात्रा एडवाइजरी में यात्रा खतरे का स्तर बढ़ा कर तीन कर दिया है. 

अमेरिकी मंत्रालय ने एक बयान जारी करते हुए कहा, ‘‘आतंकवादी संगठन श्रीलंका में हमले की योजना लगातार बना रहे हैं, आतंकवादी बिना किसी चेतावनी अथवा हल्की चेतावनी के हमला कर सकते हैं और पर्यटक स्थलों, यातायात ठिकानों, बाजारों, शॉपिंग मॉल, सरकारी संस्थानों, होटलों, क्लबों, रेस्त्रां, प्रार्थना स्थलों, पार्कों, खेल तथा सांस्कृतिक कार्यक्रमों, शिक्षण संस्थानों, हवाई अड्डों, अस्पतालों तथा अन्य सार्वजनिक स्थानों को निशाना बना सकते हैं." इस बीच एफबीआई के निदेशक क्रिस्टोफर वैरे ने कहा कि जांच में सहयोग के लिए उन्होंने अधिकारियों के एक दल को श्रीलंका भेजा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें